अधिवक्ताओं की मांग मुगलसराय: चेयरमैन, ईओ व कर्मियों पर लगे आरोपों की हो जांच

राकेश रौशन बागी

दिव्यांग राकेश रोशन सिंह के समर्थन में एसपी से मिले चंदौली के अधिवक्ता

Young Writer, चंदौली। डिस्ट्रिक्ट डेमोक्रेटिक बार एसोसिएशन चंदौली का एक प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल से मिला। इस दौरान अध्यक्ष संतोष कुमार सिंह ने मुगलसराय निवासी एलबीएस महाविद्यालय के पूर्व महामंत्री दिव्यांग राकेश रोशन सिंह पर भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज बुलंद करने पर दर्ज मुकदमें की जानकारी दी गयी। बताया कि नगर पालिका डीडीयू नगर के भ्रष्टाचार में लिप्त हैं जिनके विरूद्ध कठोर कानूनी कार्यवाही होनी चाहिए। साथ ही राकेश रोशन सिंह पर दर्ज मुकदमें को समाप्त किया जाए।
इस दौरान उन्होंने कहा कि सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बिना किसी भेदभाव के समाज के अंतिम व्यक्ति तक विकास व जनकल्याणकारी योजनाएं पहुंचाने की मंशा से सत्ता-शासन का संचालन कर रहे हैं। साथ ही समाज के अंतिम व्यक्ति की समस्या को प्राथमिकता के तौर पर निस्तारित करने के लिए प्रशासनिक अमले को सीएम का आदेश भी है। महामंत्री शमशुद्दीन ने कहा कि दिव्यांग राकेश रोशन सिंह नगर पालिका मुगलसराय में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ अपनी आवाज विगत सात-आठ महीनों से उठाते आ रहे हैं। जिसकी जानकारी शासन व प्रशासन को मीडिया व अखबारों के माध्यम से है। आरोप लगाया कि इसी बीच चेयरमैन व अधिशासी अधिकारी व उनके अधीनस्थ नगर पालिका कर्मी पर भ्रष्टाचार संबंधित आरोप लगाते हुए दिव्यांग राकेश रोशन सिंह द्वारा जांच कराए जाने की मांग की गयी थी। लेकिन जांच की मांग करने वाले राकेश रोशन सिंह पर ही मुगलसराय कोतवाली में धारा-211, 332, 500, 501 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया गया। जो दुखद एव ंदुर्भाग्यपूर्ण है। पूर्व अध्यक्ष अनिल कुमार सिंह ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने का अधिकार समाज के हर व्यक्ति को है। अब भ्रष्टाचार के खिलाफ इस लड़ाई में डिस्ट्रिक्ट डेमोक्रेटिक बार एसोसिएशन राकेश रोशन सिंह बागी के साथ खड़ा है, क्योंकि भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी आवाज को दबाने का प्रयास उचित नहीं है। इसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मांग किया कि एफआईआर को वापस लेते हुए चेयरमैन, ईओ व नगर पालिका कर्मियों पर लगाए गए आरोपों की निष्पक्ष जांच कर उचित कार्यवाही अमल में लायी जाए, ताकि शासन की मंशा फलीभूत हो सके। इस अवसर पर विद्याचरण सिंह, आनंद कुमार सिंह, झन्मेजय सिंह, राकेश रत्न तिवारी, संजीव श्रीवास्तव, सुल्तान अहमद, जेपी सिंह, अमित सिंह दद्दू, राघवेंद्र प्रताप सिंह, मु0 अकरम, अभिनव आनन्द सिंह आदि उपस्थित रहे।