उगते सूर्य को अर्घ्य देने पहुंचा था परिवार‚ गंगा में डूबने से हो गई बालक की मौत

बालक की डूबने की सूचना के बाद घटनास्थल पर जुटी पुलिस।
बालक की डूबने की सूचना के बाद घटनास्थल पर जुटी पुलिस।

Young Writer, पड़ाव। क्षेत्र के जलीलपुर और सुजाबाद सामने घाट पर गंगा में डूबने से मढ़िया निवासी एक किशोर की मौत हुई। सोमवार की तड़के सुबह पांच बजे छठ पूजा करने गए मढ़िया निवासी ऑटो चालक विजय चौहान का परिवार के ऊपर दुखों का पहाड़ उस समय टूट पड़ा जब 10 वर्षीय आर्यन की गंगा में डूबने से मौत हो गई।
जानकारी के अनुसार विजय चौहान की माता गंगोत्री देवी लगभग 45 वर्षों से छठ पूजा करती हुई चली आ रही है हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी बड़ी ही धूमधाम से उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देने के लिए जलीलपुर गंगा घाट पहुंचकर विधि विधान में व्यस्त हो गए, तभी आर्यन और उसके कुछ मित्र कपड़े उतार कर गंगा में नहाने लगे जो सभी गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे शोरगुल सुनकर कुछ लोगों ने तीन अन्य को बचा लिया, लेकिन आर्यन का कहीं पता नहीं चल पाया। सूचना पर पहुंची वाराणसी और चंदौली जनपद की पुलिस घंटों सीमा विवाद में उलझी रही अंततः चंदौली पुलिस 4 घंटे बाद मिले शव को कब्जे में लेकर अग्रिम कार्रवाई में जुट गई। दूसरी तरफ परिजनों का रो रोकर बुरा हाल हो गया था, जबकि मां पूनम चौहान रोते-रोते बेहोश हो जा रही थी।