अब शिकार नहीं, सत्ता का हिस्सेदार है मछुआ समाजः डा. संजय निषाद

चंदौली में कैबिनेट मंत्री डा. संजय निषाद का माल्यार्पण कर स्वागत करते कार्यकर्ता।
चंदौली में कैबिनेट मंत्री डा. संजय निषाद का माल्यार्पण कर स्वागत करते कार्यकर्ता।

चंदौली में कैबिनेट मंत्री का हुआ समारोह में हुआ स्वागत एवं सम्मान

Young Writer, चंदौली। सूबे के कैबिनेट मंत्री मत्स्य डा. संजय निषाद शुक्रवार को जनपद दौरे पर रहे। इस दौरान उन्होंने नूर पैलेस स्थित स्वागत एवं सम्मान समारोह में बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा लिया और पार्टी कार्यकर्ताओं के मेहनत व उनके समर्पण को सराहा। साथ ही अपने समाज के वोट को एकत्रित व एकजुट करने का आह्वान किया। कहा कि जय भीम व जय समाजवाद के नारे लगाकर अपनी हिस्सेदारी को न गंवाएं। निषाद पार्टी के साथ आएं और झंडा उठाकर अपनी भागीदारी व हिस्सेदारी हासिल करें।
उन्होंने कहा कि पहले निषाद समाज के लोग शिकार हुआ करते थे, लेकिन भाजपा के साथ सत्ता का गठजोड़ करके अपने हिस्सेदार बन गए हैं। पहली बार दिल्ली से मछुआ समाज के कल्याण के लिए 20 हजार करोड़ रुपये यूपी को मिले हैं, जिससे मछुआ समाज का कल्याण व विकास किया जाना है। यूपी में पहली बार मत्स्य विभाग को अलग विभाग का दर्जा मिला है। मत्स्य व्यवसाय से जुड़े गरीब व मध्यम वर्गीय मछुआरों के लिए क्रेडिट कार्ड की व्यवस्था की गई है। यदि मछुआरों के पास अपनी नाव व जाल है तो वह इस योजना के तहत बिना किसी सिक्योरिटी के 1.60 लाख तक का क्रेडिट कार्ड लिमिट प्राप्त कर उससे लाभान्वित हो सकते हैं। कहा कि मुख्यमंत्री सम्पदा योजना समेत अन्य योजनाओं से मछुआ समाज की आर्थिक, सामाजिक स्थिति को बदलने का काम किया जा रहा है। चंदौली में 116 लोगों ने आवेदन किया हुआ है, जिसमें चार मछुआरों का क्रेडिट कार्ड जारी किया जा चुका है। हाल ही में मछुआ कल्याण कोष की स्थापना की गयी है, जिससे मछुआ समाज के कल्याणार्थ लाया गया है। कहा कि मंडल स्तर पर मछुआ समाज के होनहार बच्चों को आवासीय सुविधा मुहैया कराएगी, जहां उन्हें खिलाने, पढ़ाने व काबिल बनाने का काम होगा, ताकि वे आगे चलकर काबिल अफसर-कर्मचारी के साथ अच्छे इंसान बन सके। कहा कि वोट के लिए समाज को बांटने का काम कई राजनीतिक दलों ने किया, लेकिन निषाद पार्टी के आने के बाद ही समाज को उसकी हिस्सेदारी व भागीदारी मिलनी शुरू हो गयी है। कहा कि हमारी पार्टी एनडीए की घटक दल है जिसका राजनीति को लेकर एक विशेष एजेंडा है। राजनीति कोई पेश नहीं बल्कि सेवा भाव से किया जाना चाहिए। अंत में उन्होंने चंदौली जनपद को ऐतिहासिक करार दिया। साथ ही स्थानीय कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर समाज के वोट को एकत्रित करने के लिए प्रेरित कर गए। इसके बाद उन्होंने पीडब्ल्यूडी डाकबंगले पर अधिकारियों संग बैठक की और मत्स्य विभाग की योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए जमीनी स्तर पर कार्य करने के निर्देश दिए। साथ ही नवीन मंडी में बनने वाले मत्स्य मंडी का शिलान्यास करने की बात कही है। इस मौके पर सांसद प्रवीण निषाद, रामअवध, विकास कुमार मिश्रा आदि उपस्थित रहे।