गबन के मामले में नौगढ़ ब्लाक के सेक्रेटरी सस्पेंड

कार्यवाही
कार्यवाही


चंदौली। नौगढ़ विकास खंड में तैनात ग्राम पंचायत अधिकारी महेंद्र प्रसाद को निलंबित कर दिया गया है। उन पर हैंडपंप रिबोर कराने के नाम पर सरकारी धनराशि का गबन करने सहित विभिन्न आरोप हैं। इस मामले की अपर जिला पंचायत अधिकारी को जांच की जिम्मेदारी दी गई है। साथ ही एक पक्ष के भीतर जांच रिपोर्ट प्रेषित करने का निर्देश दिया गया है।
जिला पंचायत राज अधिकारी ब्रह्मचारी दुबे ने बताया कि नौगढ़ विकास खंड में कार्यरत ग्राम पंचायत अधिकारी महेंद्र प्रसाद ने ग्राम पंचायत मझगावां में कार्यकाल के दौरान सामुदायिक शौचालय सहित विभिन्न घरों के पास हैंडपम्प रिबोर के नाम पर 6222000 रुपये आहरित कर गबन किया गया है। वहीं स्टेशनरी आदि प्रशासनिक धनराशि का गबन किया है। जबकि ग्राम पंचायत परसहवां, बजरडीहा, बसौली के सामुदायिक शौचालय केयर टेकर का भुगतान नहीं करने का आरोप है। इसके अलावा ग्राम पंचायत बजरडीहा के पंचायत सहायक का मानदेय 10 महीने तक बिना कारण रोके जाने, विकास खंड नौगढ़ में आवंटित आवास का किराया न जमा करने, ग्राम पंचायत मझगांवा, बरवाडीह, लक्षिमनपुर में सामुदायिक शौचालयों के निर्माण कार्य में धनराशि आहरित करने के बावजूद मानक व गुणवत्तायुक्त न कराकर धनराशि गबन की गई है। पूर्व में नियुक्ति के ग्राम पंचायतों का चार्ज वर्तमान सचिव को हस्तगत नहीं करने, विकास खंड में आयोजित प्रत्येक तहसील दिवस व सम्पूर्ण समाधान दिवस में अनुपस्थित रहने और उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवहेलना व कर्मचारी आचार संहिता का उल्लंघन किया गया है। इससे उक्त ग्राम पंचायत अधिकारी के विरुद्ध निलंबन की कार्रवाई की गई है। उन्होंने बताया कि निलंबन अवधि में विकास खंड नौगढ़ से संबद्ध किया गया है। साथ ही मामले की जांच के लिए अपर जिला पंचायत राज अधिकारी को नामित किया गया है। वहीं जांच आख्या एक पक्ष के अंदर प्रेषित करने का निर्देश दिया गया है।