33.4 C
New York
Tuesday, July 16, 2024

Buy now

बहुद्देशीय प्रेक्षागृह का 30 लाख बिल बकाया, कटेगा बिजली कनेक्शन

- Advertisement -

केंद्रीय विद्यालय पीडीडीयूनगर को बिजली विभाग ने जारी किया नोटिस‚ कभी काट सकते हैं कनेक्शन

Young Writer, डीडीयू नगर। केंद्रीय मंत्री व स्थानीय सांसद डॉ महेंन्द्रनाथ पांडेय के प्रयास से केंद्रीय विद्यालय परिसर में बहुद्देशीय प्रेक्षागृह पर तीस लाख रुपये का बिजली का बिल बकाया है। बकाए में बिजली विभाग कभी भी प्रेक्षागृह की बिजली काट सकता है। केंद्रीय विद्यालय परिसर में बने प्रेक्षागृह के संचालन की जिम्मेदारी केंद्रीय विद्यालय के पास है। करोड़़ों की लागत से बने प्रेक्षागृह का बिजली बिल अब तक नहीं दिया गया, यह एक प्रश्नचिह्न खड़ा करता है।
नगर सहित जनपद में प्रेक्षागृह और स्टेडियम की मांग लंबे समय से की जा रही थी। इसको देखते हुए केंद्रीय विद्यालय परिसर में 14 करोड़ की लागत से बहुद्देशीय प्रेक्षागृह का निर्माण किया गया। वर्ष 2018 में तत्कालीन केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडे़कर ने इसका शिलान्यास किया था। देश भर में 12 हजार 500 केंद्रीय विद्यालयों में डीडीयू नगर का यह प्रेक्षागृह दूसरा सबसे बड़ा है। निर्माण के बाद 12 दिसंबर 2021 को केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, सांसद डॉ. महेन्द्रनाथ पांडेय ने संयुक्त रूप से इसका लोकार्पण किया था। इस दौरान वादा किया था कि बहुद्देशीय प्रेक्षागृह न सिर्फ धार्मिक और सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए ठीक होगा, बल्कि इंडोर खेल में भी सहायक होगा। 820 लोगों की बैठने की क्षमता वाला आडिटोरियम पूरी तरह अत्याधुनिक है। पूरी तरह वातानुकूलित प्रेक्षागृह में अत्याधुनिक हाईक्वालिटी साउंड सिस्टम लगे हैं। वहीं यह पूरी तरह साउंड प्रूफ भी है। इसे सीपीडब्लू ने तैयार किया है। उद्घाटन के आठ माह बाद जुलाई 2022 में प्रेक्षागृह को केंद्रीय विद्यालय के हवाले किया गया। उद्धाटन के बाद अब तक यहां इक्का दुक्का छोड़ कर कोई कार्यक्रम नहीं हुआ है। इसमें भी अधिकतर स्कूल के कार्यक्रम हुए हैं। इस बीच लगभग दो वर्ष का बिजली बिल तीस लाख रुपये हो गया। इसका भुगतान नहीं किया गया है। ऐसे में बिजली विभाग ने बिजली काटने की नोटिस जारी कर दिया। बिजली बिल बकाए को लेकर नगर में चर्चाओं का बाजार गर्म है।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights