Home Blog

रूपेठा ग्राम प्रधान का वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार सीज

कार्यवाही


चंदौली। चहनियां ब्लाक के रूपेठा ग्राम पंचायत के प्रधान और ग्राम पंचायत सचिव पर वित्तीय अनियमितता का आरोप है। अधिकारियों की जांच में प्रथम दृष्टिया दोनों दोषी पाए गए हैं। इसपर डीएम ईशा दुहन ने प्रधान का वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार सीज करने का आदेश दिया है। साथ ही उपकृषि निदेशक और ग्रामीण अभियंत्रण के एक्सईएन को जांच अधिकारी नामित किया है।  
जिला पंचायत राज अधिकारी ब्रह्मचारी दुबे ने बताया कि चहनियां विकास खंड के रूपेठा प्रधान राकेश व ग्राम पंचायत सचिव बाबूलाल के विरुद्ध कार्यों में वित्तीय अनियमितता के संबंध में गांव के ही मुन्ना पांडेय ने शिकायत पत्र दिया था। इसपर डीएम ने उपायुक्त स्वत: रोजगार और जलनिगम के एक्सईएन को मामले की जांच करने के लिए जिम्मेदारी सौंपी थी। जांच रिपोर्ट में ग्राम पंचायत भवन के मरम्मत में तकरीबन तीन लाख खर्च किए गए थ। टेंडर प्रक्रिया का पूरी तरह अनुपालन नहीं कराया गया। मात्र एक स्थानीय समाचार पत्र में टेंडर का विज्ञापन प्रकाशित कराकर एक ही व्यक्ति ने तीन अलग-अलग नामों से टेंडर डाला था। वहीं प्रांजल इंटर प्राइजेज से कोटेशन लेकर भुगतान कर दिया गया। इसी तरह बगैर टेंडर के अधिक मूल्य पर 44 बेंच खरीदे गए। मंदिर के पास तालाब का आधा अधूरा संुदरीकरण कराकर पूरा भुगतान कर दिया गया। हैंडपंप रिबोर के नाम पर भुगतान कर दिया गया। जबकि जांच में अधिकारियों ने पाया कि हैंडपंप अभी भी खराब पड़ा है। हालांकि अधिकारियों की जांच के बाद प्रधान और सेक्रेटरी ने हैंड पंप का रिबोर करा दिया। अधिकारियों की जांच के आधार पर डीएम ईशा दुहन ने प्रधान के वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार सीज कर दिए हैं। साथ ही जांच के लिए अधिकारियों को नामित किया है। जांच प्रक्रिया पूर्ण होने तक तीन सदस्यीय समिति प्रधान पद के दायित्वों का निर्वह्न करेगी

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाहः जनपद में 126 वर-वधू ने लिए सात फेरे

धानापुर में 55 व बरहनी ब्लाक मुख्यालय पर 71 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे

Young Writer, चंदौली। समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत धानापुर ब्लाक परिसर एव बरहनी ब्लाक के किसान इंटर कालेज में राज्यसभा सांसद दर्शना सिंह, जिलाधिकारी ईशा दुहन की मौजूदगी में कार्यक्रम का आयोजन सम्पन्न हुआ। पूरी विधि विधान व मंत्रोच्चार के साथ धानापुर में 55 व बरहनी के किसान इंटर कालेज में 71 जोड़ों का विवाह कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। सभी वर-वधुओ को जिलाधिकारी ईशा दुहन व सैयदराजा ब्लाक प्रमुख धानापुर, जिला समाज कल्याण अधिकारी द्वारा प्रमाण पत्र सौंपा गया।
इसी क्रम में ब्लाक बरहनी के किसान इंटर कालेज में भी 71 जोड़ों का विवाह कार्यक्रम संपन्न हुआ। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलित कर किया गया। सभी जोड़ों को विवाह प्रमाण पत्र एव सुखमय जीवन यापन के लिए मंगलकामना एवं आशीर्वाद दिया गया। मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना के अंतर्गत सरकार की ओर से प्रति जोड़े के लिए कुल रुपए 51 हजार दिए गए, जिसमें 35 हजार कन्या के खाते में, 10 हजार गृहस्थी का सामान के लिए तथा रुपए 6 हजार विवाह कार्यक्रम संपन्न किये जाने में व्यय किया जाता है। इस दौरान ब्लाक प्रमुख अजय सिंह उपस्थित रहे।

धानापुर। ब्लॉक परिसर में सोमवार को मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना अंतर्गत कुल 56 जोड़ों शादी के बंधन में बंधे। 58 जोड़ों की शादी होनी थी दो जोड़ों के नही आने से 56 शादी हुई। मुख्य अतिथि मुख्य अतिथि सैयदराजा विधायक रहे। इस दौरान डीएम ईशा दुहन ने कहा की सरकार की यह महत्वाकांक्षी योजना है। सरकार गरीब बेटियों के शादी की जिम्मेदारी खुद लिया है इसलिए बेटियां अब किसी भी पिता के लिए बोझ नही रहेंगी। विशिष्ट अथिति ब्लाक प्रमुख अजय सिंह ने कहा कि लाभार्थियों को सीधे लाभ पहुचाने के लिए अब सरकार सामूहिक विवाह में शामिल होने वाले जोड़ों को ही इसका लाभ दे रही है जिसमें 35 हजार बैंक खाते में तथा 10 हजार का उपहार और 6 हजार रुपया उनके साथ आये लोगों के खाने पीने और अन्य व्यवस्थाओं में कर रही है। इस प्रकार एक जोड़े पर कुल 51 हजार रुपया सरकार खर्च कर रही है। जिलाधिकारी ईशा दुहन ने सभी नाव दाम्पत्य जीवन को उपहार भेंट कर सुखमय जिंदगी का आशीर्वाद दिया। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी अजितेंद्र नारायण मिश्रा, डीपीआरओ ब्रम्हचारी दुबे, उपजिलाधिकारी मनोज पाठक, तहसीलदार वंदना मिश्रा, जिला समाज कल्याण अधिकारी नगेन्द्र कुमार मौर्य, बीडीओ विजय कुमार, अनिल कुमार राय, एडीओ पंचायत सौरभ कुमार, दयाल शरण श्रीवास्तव, प्रधान रामजी कुशवाहा, राजेश सिंह, कमलाकांत मिश्र, विमल सिंह दादा उपस्थित रहे।

सहूलियतः टांडाकला-कैथी में जल्द शुरू हो जाएगा पीपा पुल

Young Writer: टांडाकला कैथी स्थित गंगा नदी में पीपा पुल निर्माण में कार्य करते हुए मजदूर।
टांडाकला कैथी स्थित गंगा नदी में पीपा पुल निर्माण में कार्य करते हुए मजदूर।

Young Writer, चहनियां। क्षेत्र के टांडाकला-कैथी के बीच स्थित गंगा नदी पर बनने वाले पीपा पुल के निर्माण कार्य में बीते दो दिनों से तेजी आ गयी है। अब तक 81 पीपा लगाये जा चुके है, जिससे क्षेत्रीय लोगों ने सन्तोष जाहिर करते हुए जल्द से जल्द निर्माण कार्य पूरा कराकर आवागमन शीघ्र शुरू कराने की मांग किया है।
टांडाकला कैथी के बीच गंगा नदी पर आवागमन के लिए बनने वाले पीपा पुल निर्माण कार्य में विभागीय हीलाहवाली और लापरवाही से अधर में पड़े कार्य को पूरा करने को लेकर बीते दो दिनों से तेजी आ गयी है। अब तक कार्य में लगे मजदूरों ने कुल लगने वाले 104 पीपा में से सोमवार तक 81 पीपा एडजस्ट कर दिये है। अगले दो तीन दिन में कार्य पूरा होने की उम्मीद लगाये क्षेत्रीय लोगों ने सन्तोष जाहिर करते हुए पुल को आवागमन के लिए जल्द से जल्द तैयार करने की मांग विभागीय अधिकारियों से किया है। उक्त पुल पर आवागमन शुरू होने से व्यापारिक और धार्मिक गतिविधियों में तेजी आ जाती है। चहनियां क्षेत्र के दर्जन भर गांव के लोगों को वाराणसी सहित जौनपुर व आसपास के जिलों में आवागमन के लिए काफी कम दूरी तय करनी पड़ती है। वहीं कैथी स्थित आस्था व श्रद्धा के केन्द्र मार्कण्डेय महादेव मंदिर में दर्शन पूजन के लिए श्रद्धालुओं को काफी सहूलियत हो जाती है। किन्तु हर साल की तरह इस बार भी विभागीय उदासीनता के कारण समय पर पीपा पुल निर्माण न होने से क्षेत्रीय लोगों में आक्रोश व्याप्त हो गया था। इस सम्बन्ध में लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियन्ता ने बताया कि कार्य तीव्र गति से चल रहा है अगले तीन चार दिनों में पुल आवागमन के लिए खोल दिया जायेगा।

कार्यवाहीः पुलिस ने लापरवाह नाविकों को दिया हिदायत, थमाया नोटिस

Young Writer: टांडाकला गंगा घाट पर नाविकों को हिदायत देते हुए नोटिस तामिल कराते हुए चौकी प्रभारी मारूफपुर।
टांडाकला गंगा घाट पर नाविकों को हिदायत देते हुए नोटिस तामिल कराते हुए चौकी प्रभारी मारूफपुर।

Young Writer, चहनियां। बलुआ थाना क्षेत्र के मारूफपुर पुलिस चौकी अन्तर्गत टांडाकला कैथी के बीच स्थित गंगा नदी पर आवागमन के लिए हो रहे नौका संचालन के दौरान नावों में ओवरलोड सवारी बैठाने को लेकर लगातार आ रही शिकायतों के मद्देनजर सोमवार को गंगा घाट पर पहुंचे चौकी प्रभारी मारूफपुर दीपक पाल ने नाविकों से बातचीत की। उन्हें क्षमता अनुसार सवारी बैठाने की हिदायत दिया और भविष्य में ऐसा न होने पर विधिक कार्यवाई के लिए नोटिस तामिल कराया।
टांडाकला कैथी के बीच आवागमन के लिए बनने वाले पीपा पुल निर्माण कार्य में देरी के कारण नदी पार करने के लिए केन्द्रीय मंत्री डा.महेंद्रनाथ पाण्डेय के निर्देश पर लोक निर्माण विभाग द्वारा तीन नौकाओं का संचालन निःशुल्क कराया जा रहा है। सभी नौकाओं में तीस सवारी एक साथ बैठने की क्षमता है। लेकिन घाट पर जल्दी पार उतरने को लेकर सवारियों में होड़ मच जाने के कारण तय क्षमता मानक को दर किनार कर लोग नावों में सवार हो जा रहे है। जिससे किसी अप्रिय घटना की सम्भावना लगातार बनी रहती है। इस बात की शिकायत बार बार मिलने पर सोमवार को मय हमराह चौकी प्रभारी मारूफपुर दीपक पाल गंगा घाट पर पहुंचकर नाविकों को क्षमता अनुसार ही सवारी बैठाने की हिदायत दी ऐसा ना करने पर भविष्य में घटित होने वाली घटनाओं पर जिम्मेदारी तय करते हुए तीनों नाव के संचालकों नोटिस तामिल कराया।

दुस्साहसः शादी समारोह में महिला से तीन लाख की उचक्कागिरी

Young Writer: उच्चकागिरी

Young Writer, पड़ाव। क्षेत्र के मढ़िया निवासी एक महिला का तीन लाख रुपयों से भरा बैग उचक्के ने उड़ा दिया। महिला के साथ उक्त घटना एक लान में शादी समारोह के दौरान घटी। इसके बाद पीड़ित महिला ने पुलिस चौकी जलीलपुर पहूचकर तहरीर दिया और मामले में कार्यवाही की मांग की।
जानकारी के अनुसार मढ़िया निवासी बाबूलाल की पत्नी चिंता देवी की लड़की का शादी भोजपुर एक लॉन में था। इसके मद्देनजर चिंता देवी का आवागमन दिन भर लगा रहा। शादी की व्यवस्था के बीच किसी ने महिला से तीन लाख रुपये की उच्चकागिरी कर ली। रात में ज़ब बारात आने का समय हुआ तो चिंता अपने घर से लगभग पांच लाख रुपए अपने बैग में रख कर लान के लिए निकली और लॉन मे पहुंचकर सारा काम देखने लगी। बारात आने के बाद वह द्वारपूजा के लिए तैयार हुई, तभी पीछे से किसी ने दाल फेक दिया, जिसे उन्होंने किसी के द्वारा किया हुआ मजाक समझा और वह अपनी साड़ी साफ कर अपने कार्य मे जुट गई। तिलक चढ़ाने के दौरान किसी ने फिर से उनके ऊपर दाल डाल दिया। तभी वहां मौजूद महिलाएं चिंता देवी का कपड़ा साफ करने लगी। इस दौरान उन्होंने रुपयों से भरा बैग टेबल पर रख दिया, तभी एक वेटर उनका बैग लेकर वहां से भाग निकला। इसके बाद चिंता देवी ने शोर मचाना शुरू कर दिया और मेन गेट बंद करने को कहा। लोगों ने उक्त वेटर की खोजबीन शुरू कर दी, बीस मिनट तक खोजने पर नहीं मिला; तभी पीड़ित के साथ एक लड़की ने बताया कि वेटर दीवार फांद कर भाग चुका है। इसके बाद शादी समारोह पूर्ण होने के बाद चिंता देवी टेंट की व्यवस्था करने वाले व्यक्ति से मिली और उक्त वेटर को बुलाने के लिए कहा, जिस पर टेंट वाले ने साफ मना कर दिया। इसके बाद उन्होंने जलीलपुर चौकी पर जाकर अपनी आप बीती बताई तो चौकी प्रभारी ने शादी की सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद आगे की कार्यवाही करने का भरोसा दिया।

लोकतंत्र को मजबूती प्रदान करते हैं सजग नागरिकः डा. दयाशंकर

सकलडीहा पीजी कालेज में गोष्ठी को संबोधित करते वक्ता।
सकलडीहा पीजी कालेज में गोष्ठी को संबोधित करते वक्ता।

Young Writer, सकलडीहा। कस्बा के पोस्ट ग्रेजुएट कालेज में रविवार को एक गोष्ठी का आयोजन किया गया, जिसमें भारतीय संविधान दिवस के उपलक्ष्य में एपीजे अब्दुल कलाम आजाद सभागार में भारत लोकतंत्र की जननी पर प्रकाश डालते हुए महाविद्‍यालय के प्राचार्य प्रोफेसर डा.प्रदीप कुमार पांडेय ने किया। विशिष्ट अतिथि उपजिलाधिकारी सकलडीहा रहे। गोष्ठी में महाविद्यालय के शिक्षण संकाय एवं यूजीपीजी के छात्र छात्राओं ने बढ़-चढ़कर प्रतिभाग किया।
गोष्ठी के मुख्य वक्ता समाजशास्त्र विभाग अध्यक्ष डा.दयाशंकर यादव ने कहा कि लोकतंत्र बहुमत का शासन है। इसलिए शिक्षित जागरूक सजग नागरिक ही लोकतंत्र को मजबूती प्रदान करते हैं। भारतीय लोकतंत्र जन चेतना बुद्धि और जागरूकता से ही सरकार की सफलता या विफलता निर्धारित होती है। भारतीय लोकतांत्रिक व्यवस्था के विश्वव्यापी प्रशंसा प्राप्त है फिर भी भारतीय लोकतंत्र के सुचारू कामकाज में कई बाधाएं हैं जिनमें निरक्षरता लिंग भेदभाव गरीबी सांस्कृतिक और समानता राजनीतिक प्रभाव जातिवाद और सांप्रदायिकता शामिल है जो भारत के लोकतंत्र पर प्रतिकूल प्रभाव डालते हैं।
संस्कृत विभागाध्यक्ष प्रो.उदय शंकर झा ने कहा कि नित्य नूतन चिर पुरातन की धारणा की वजह से ही भारत में लोकतंत्र फल फूल रहा है आज हम सब को यह सोचने की आवश्यकता है कि भारतीय लोकतंत्र के प्रति आस्थावान कैसे बनाया जाए। दुनिया में लोकतंत्र की व्यवस्था भारत में पौराणिक व्यवस्था से ही लिया गया है और यह सत्य है भारत ने ही दुनिया को राह दिखाई। प्राचार्य प्रदीप कुमार पांडेय ने कहा कि हर भारतीयों के रग-रग में लोकतंत्र बसता है। आज का यह विषय भारत लोकतंत्र की जननी है यह वक्तव्य डा.विनय सहस्त्रबुद्धे अध्यक्ष भारतीय ऐतिहासिक अनुसंधान परिषद नई दिल्ली केंद्रीय विश्वविद्यालय में प्राचीन भारत में लोकतंत्र की जड़ें सिद्धांत और व्यवहार विषय पर आयोजित संगोष्ठी में दिया था। कहा कि हम सब की यह जिम्मेदारी है कि देश के लोकतंत्र को मजबूत करने की दिशा में अपना योगदान दें देश के अमृत महोत्सव काल में देशभर में हो रही आज की संगोष्ठी पर हुई विस्तृत चर्चा से अवश्य ही नए नए आयाम सामने आएंगे जो लोकतंत्र की जड़ों को मजबूती प्रदान करने में अहम भूमिका निभाएंगे। एसडीएम सकलडीहा ने कहा की भारतीय संविधान एक लोकतांत्रिक राज्य का वादा करता है जो हम भारतीयों को सभी प्रकार का अधिकार प्रदान करता है। धन्यवाद ज्ञापन डा. संदीप मिश्रा व संचालन डा. अभय कुमार वर्मा ने किया।

बढ़ती महंगाई व बेरोजगारी भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों का परिणामः मनोज सिंह डब्लू

Young Writer: जमुरना में पदयात्रा का स्वागत करते मनोज सिंह डब्लू।
Young Writer: जमुरना में पदयात्रा का स्वागत करते मनोज सिंह डब्लू।

Young Writer, चंदौली। सपा के राष्ट्रीय सचिव व सैयदराजा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू ने रविवार को भाजपा सरकार पर हमलावर रहे। इस दौरान उन्होंने सरकार पर बड़ा आरोप लगाया। कहा कि देश में बढ़ती महंगाई व बेरोजगारी सरकार की जनविरोधी नीतियों का परिणाम है। सरकार चाहे तो एक दिन में बढ़ी हुई महंगाई को नियंत्रित कर जनता को राहत पहुंचा दे, लेकिन भाजपा की प्राथमिकता देश के गरीब व मध्यम वर्ग शामिल नहीं है। सरकार की योजनाएं व कार्यक्रमों की रूपरेखा पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए है। उक्त बातें मनोज सिंह डब्लू रविवार को जमुरना में देश बचाओ, देश बनाओ समाजवादी पदयात्रा के स्वागत अवसर पर कही।

Young Writer: जमुरना में पदयात्रा का स्वागत करते मनोज सिंह डब्लू।
Young Writer: जमुरना में पदयात्रा का स्वागत करते मनोज सिंह डब्लू।

उन्होंने कहा कि आज पूरा देश बढ़ती महंगाई से त्राहि-त्राहि कर रहा है। वहीं रोजगार नहीं मिलने से पढ़े-लिखे नौजवान निराश, हताश है। आए दिन युवाओं के आत्महत्या की खबरें मीडिया के जरिए सामने आ रही है जो इस वक्त देश की गिरती अर्थव्यवस्था की भयावहता को दर्शाती है। बावजूद इसके सरकार लोगों की भावनाओं को आहत कर उनके ध्यान को बांटने का षड्यंत्र कर रही है। भाजपा जब से सत्ता में आई है जनता को मुद्दों से भटका कर गुमराह करने का काम कर रही है। देश की सम्पत्ति को इन पूंजीपतियों के हवाले करके उनको और अमीर बनाने में सहयोगी की भूमिका अदा कर रही है। वहीं जनता को किए गए वादों को पूरा करने में उसकी कोई दिलचस्पी नहीं है। कहा कि सैयदराजा विधानसभा में समाजवादी पदयात्रा जमुरना से शुरू होकर वर्दीसांड़ा, आवाजापुर, शहीदगांव व डेढ़ावल होते हुए डेढगांवा, कमालपुर, जनौली, सिलौटा से होकर माधोपुर स्थित नेताजी की कुटिया के पास रात्रि विश्राम है। इसके बाद अगले दिन पदयात्रा अपने अगले पड़ाव की ओर अग्रसर होगी।

यात्रा के नायक अभिषेक यादव ने कहा कि सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ पिछले नौ अगस्त से समाजवादी पदयात्रा सपा प्रमुख अखिलेश यादव के निर्देश पर चल रही है। समाजवादी साथी विधानसभा लोगों से मुलाकात कर सरकार की जनविरोधी नीतियों को बताने का काम कर रहे हैं, यह सिलसिला अनवरत 64 दिनों से चल रहा है। कहा कि सैयदराजा इस कड़ी की 50वीं विधानसभा है। हर जगह जनता का अपार साथ व समर्थन मिला, जिससे पदयात्रा की अगुवाई कर रहे समाजवादी साथियों में उत्साह हैै। इस अवसर पर अंजनी सिंह, प्रशांत सिंह यादव, राजेश त्यागी, अखिलेश सिंह, सोलू सिंह, मंसूर आलम, महातीम बिन्द, अमित उपाध्याय, रामजनम यादव, नंदकुमार राय, गणेश गुप्ता, रमेश सिंह, छोटू सिंह, बिपिन यादव बिक्कू आदि उपस्थित रहे।

देश को बचाने व देश को बनाने की पुरजोर मांग स्वाभावितः मनोज सिंह डब्लू

Young Writer: Manoj Singh W


चंदौली। देश के विकास का भार जिस संवैधानिक स्तंभों पर टिका है उसे आज निजी स्वार्थ के लिए खोलला और कमजोर किया जा रहा है। ऐसे में देश को बचाने और देश को बनाने की पुरजोर मांग स्वाभावित है। नेताजी मुलायम सिंह यादव ने देश के साथ देशवासियों के हितों को प्राथमिकता दी। विभिन्न संवैधानिक पदों पर रहते हुए उन्होंने उन स्तंभों को सशक्त किया, जो देश को मजबूती व तरक्की दिला सके। उक्त बातें समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव व सैयदराजा के पूर्व विधायक मनोज कुमार सिंह डब्लू ने शुक्रवार की देर शाम देश बचाओ, देश बनाओ समाजवादी पदयात्रा के जनपद आगमन की पूर्व संध्या पर कही।

उन्होंने कहा कि आज नेताजी की जयंती के दूसरे चरण में समाजवादी पार्टी ने देश की बचाने की बात को जन-जन तक पहुंचाने का संकल्प लिया है। इस संकल्प को साकार करना हर उस शख्स का नैतिक दायित्व है जिसे देश व देशवासियों से लगाव है। इस पुनीत कार्य के लिए समाजवादी पार्टी ने मुलायम सिंह यादव की जयंती जैसे पावन अवसर को चुना है ताकि नेताजी के 60 वर्षों के राजनीतिक जीवन के संघर्षों, उपलब्धियों व उनकी स्मृतियों के साथ ही समसामयिक मुद्दे के साथ जनता के बीच जाकर समाजवादी विचारधारा को आगे बढ़ाया जाए। उन्होंने बताया कि 22 नवंबर से गाजीपुर से शुरू हुई देश बचाओ, देश बनाओ समाजवादी पदयात्रा 26 नवंबर का चंदौली जिले में आगमन हो रहा है। पदयात्रा का चंदौली के समाजवादी साथियों द्वारा भव्य स्वागत होगा। पदयात्रा के नायक और नेतृत्वकर्ता अभिषेक यादव की अगुवाई में जनता के बीच जोरदार हुंकार भरी जाएगी। चौपाल, पंचायत व नुक्कड़ नाटक जैसे विभिन्न छोटे व संक्षिप्त कार्यक्रमों के जरिए समाजवादी पदयात्रा बड़ा संदेश देकर सोनभद्र रवाना होगी। कहा कि 27 नवंबर को पदयात्रा माधोपुर स्थित नेताजी की कुटिया के पास विश्राम करेगी। इस दौरान देश के हालात व उसमें सुधार के लिए उठाए जाने वाले प्रभावी कदम पर चिंतन-मंथन होगा, जिसमें समाज के हर वर्ग को विशेष आमंत्रण होगा। पंचायत में लोग अपनी विचारों व सुझावों को पदयात्रा व समाजवादी साथियों से साझा करेंगे, ताकि आगे आने वाले दिनों जन सहयोग से बड़ा आंदोलन खड़ा किया जा सके। कहा कि सरकार जनहित व देश हित के मुद्दों पर निरंतर विफल होती जा रही है। इसके अलावा सरकार के जनविरोधी व तानाशाही के कारण आमजन में जबरदस्त आक्रोश व्याप्त है। सरकार में बैठे लोग देश को चलाने वाले संवैधानिक संस्थाओं का स्वायत्ता व उनकी स्वतंत्रता का दमन कर रहे हैं, जिससे देश तेजी से गर्त में जा रहा है। सरकार की गलत आर्थिक नीतियों से आमजन पर महंगाई का बोझ बढ़ता जा रहा है। बावजूद इसके भाजपा केवल चुनाव लड़ने व जीतने पर अपना ध्यान केंद्रीय किए हुए है।

आज आएगी सपा की देश बचाओ, देश बनाओ पदयात्रा
चंदौली। देश बचाओ, देश बनाओ समाजवादी पदयात्रा 26 नवंबर को बलुआ घाट के रास्ते जनपद में प्रवेश करेगी। यह जानकारी देते हुए सपा जिलाध्यक्ष सत्यनरायन राजभर ने बताया कि भारतीय राजनीति के मजबूत एवं महत्वपूर्ण स्तम्भ रहे मुलायम सिंह यादव के राजनीतिक जीवन व उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए पदयात्रा निकाली गई है। इस पदयात्रा की अगुवाई अभिषेक यादव कर रहे हैं। जनपद में पदयात्रा 26 को चहनियां में रात्रि विश्राम करेगी। 27 को चहनियां से रमौली होते हुए माधोपुर में रात्रि विश्राम रेगी। 28 नवंबर को सैयदराजा होते हुए समाजवादी पार्टी कार्यालय पर विश्राम करेगी। इसके बाद पदयात्रा मुगलसराय के लिए प्रस्तान करेगी। मुगलसराय से होते हुए 30 नवंबर को चकिया में रूकेगी और नौगढ़ के रास्ते एक दिसंबर को सोनभद्र के लिए रवाना हो जाएगी।

समीक्षा बैठक में पूरी तैयारी के साथ हिस्सा लें जिम्मेदार अधिकारीः डीएम

Young Writer: कलेक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों को आदेशित करती डीएम।

डीएम ने नीति आयोग के संकेतकों की प्रगति को समीक्षा बैठक में देखा

Young Writer, चंदौली। जिलाधिकारी ईशा दुहन की अध्यक्षता में नीति आयोग के संकेतकों की प्रगति के संबंध में कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक संपन्न हुई। इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि अपने विभाग से संबंधित निर्धारित संकेतको में बेहतर प्रगति सुनिश्चित किये जाने हेतु आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करें। उन्होंने वित्तीय समावेशन के अंतर्गत संकेतको में कम प्रगति पाए जाने पर इसमें विशेष ध्यान देते हुए अपेक्षित प्रगति लाए जाने के निर्देश दिए। इसी प्रकार कृषि, उद्यान, कौशल विकास, चिकित्सा विभाग, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि निर्धारित संकेतको के सापेक्ष बेहतर प्रगति लाने हेतु कार्यवाही सुनिश्चित करें।
उन्होंने कहा कि जिन विभागों के इंडिकेटर्स की प्रगति कम है उस पर विशेष फोकस करने की आवश्यकता है। जिलाधिकारी ने चिकित्सा विभाग के संस्थागत प्रसव, कम वजन के पैदा होने वाले बच्चों आदि से संबंधित इंडिकेटर्स पर विशेष ध्यान देते हुए प्रगति सुनिश्चित किए जाने हेतु मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया। कौशल विकास योजना के अंतर्गत बृहद रोजगार मेलों का आयोजन कराए जाने के निर्देश दिए, जिससे अधिक से अधिक बेरोजगार युवकों को रोजगार दिलाए जाने की कार्यवाही की जा सके। वित्तीय समावेशन के अंतर्गत अधिक से अधिक मुद्रा लोन वितरण, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना के विषय में जागरूक करते हुए अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित करें। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि बैठक में पूरी तैयारी के साथ प्रतिभाग करें। भौतिक प्रगति के साथ ही आंकड़ों को भी अपडेट रखा जाय, इसमें लापरवाही कत्तई न हो। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी अजीतेंद्र नारायण, मुख्य चिकित्साधिकारी अजितेंद्र नारायण उपस्थित रहे।

बड़ी राहतः क्रय केंद्रों पर कतार लगाए बिना सीधे बिकेगा किसानों का धान

Young Writer: कलेक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों को आदेशित करती डीएम।

डीएम चंदौली ईशा दुहन ने जारी किया फरमान‚ बोली आदेश के अनुपालन में लापरवाही पर होगी कार्यवाही

Young Writer, चंदौली। जनपद के छोटे किसानों के लिए जिला प्रशासन ने बड़ी राहत दी है। अब 60 कुंतल या उससे कम धान को क्रय केंद्र पर बेचने के लिए जद्दोजहद कर रहे किसानों की उपज अतिरिक्त कांटे पर बिना किसी प्रतिक्षा के खरीद की जाएगी। इस बाबत जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट सभागार में आकांक्षी जनपद योजना के अंतर्गत नीति आयोग द्वारा निर्धारित संकेतकों व कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक में आदेश जारी किया। साथ ही संबंधित अधिकारियों व क्रय केंद्र प्रभारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए हैं।
इस बाबत जिलाधिकारी ने जनपद के किसानों को अवगत कराया कि धान खरीद वर्ष 2022-23 में सरकारी धान क्रय केंद्रों पर अब जो किसान जिनके पंजीकरण में सत्यापित धान की मात्रा 60 कुंतल या उससे कम है उनकी धान की खरीद बिना प्रतीक्षा किये अतिरिक्त कांटे पर की जाएगी। यानी 60 कुंतल या उससे कम सत्यापित धान की मात्रा वाले किसान अपने नजदीकी धान क्रय केंद्र पर जाकर धान की तौल करा सकते हैं। जिलाधिकारी का यह फरमान किसानों को बड़ी राहत देने वाला है। क्योंकि पिछले वर्ष किसानों ने धान की उपज बेचने के लिए लंबा संघर्ष किया और उन्हें काफी भाग-दौड़ करनी पड़ी थी। लिहाजा अबकी बार जिलाधिकारी द्वारा जारी आदेश का यदि क्रय केंद्रों पर सही तरीके से अनुपालन हुआ था तो छोटे किसानों को धान की उपज बेचने में राहत मिलेगी और उन्हें न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ मिल सकेगा। जिलाधिकारी ने बताया कि किसान अपने धान को अच्छी तरह साफ और सुखाकर क्रय केंद्रों पर ले जाएं। यदि क्रय केंद्रों पर किसी भी तरह की समस्या होती है तो उससे अवगत कराएं। इस संबंध में केंद्र प्रभारियों को आदेश दिए गए हैं। कहा कि धान खरीद में किसी भी तरह से लापरवाही होने पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

Chandauli
clear sky
15 ° C
15 °
15 °
42 %
0.3kmh
5 %
Tue
17 °
Wed
28 °
Thu
27 °
Fri
27 °
Sat
28 °

You cannot copy content of this page