24.3 C
New York
Tuesday, June 25, 2024

Buy now

लम्बे आंदोलन के बाद बलात्कार के प्रयास का मामला दर्ज

- Advertisement -

भाकपा माले ने विवेचक मनोज कुमार सिंह को हटाने व उनकी बर्खास्तगी की मांग की


चंदौली। बिछियां धरनास्थल पर न्याय के लिए आंदोलित परिवार के प्रयासों को पुलिस ने संज्ञान मिला। मंगलवार को बबुरी थाना पुलिस ने बलात्कार की कोशिश के आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया है। लेकिन परिवार के साथ आंदोलित भाकपा माले ने बबुरी थाने पर तैनात विवेक मनोज कुमार सिंह को हटाने की मांग की। कहा कि पीड़ित को न्याय दिलाने तक भाकपा माले का संघर्ष अनवरत जारी रहेगा।
इस दौरान अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा जिला अध्यक्ष कामरेड रामदुलार बिंद ने कहा कि किस्मत यादव ने कहा कि बिछिया धरनास्थल पर चल रहे अनिश्चितकालीन धरने व अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला एसोसिएशन के राज्य व्यापी आह्वान के तहत 16 अगस्त को पूरे प्रदेश में हुए विरोध प्रदर्शन के दबाव में बबुरी पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ एफआईआर तो दर्ज कर ली, लेकिन विवेचक एसआई मनोज कुमार सिंह को बनाया गया है जिसके संरक्षण में ही आरोपी घटना को अंजाम दे रहे थे। ऐसे में बलात्कार के मामले में विवेचनाधिकारी मनोज कुमार सिंह के होने पर निष्पक्ष जांच नहीं हो पाएगी। पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए विवेचना अधिकारी को बदला जाए तथा आरोपियों को संरक्षण देने वाले एसआई मनोज कुमार सिंह को बर्खास्त किया जाए। किस्मत यादव ने कहा कि अभी हमारा एक सवाल हल हुआ है आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के रूप में एक सवाल बल हुआ है अभी उनकी गिरफ्तारी तथा आरोपियों को संरक्षण देने वाले एसआई मनोज कुमार सिंह की बर्खास्त होनी बाकी है इसलिए हमारा आंदोलन आरोपियों की गिरफ्तारी तथा मनोज कुमार सिंह की बर्खास्तगी तक जारी रहेगा। धरने के 15 में दिन पीड़ित परिवार के साथ मेहंदी हसन, किस्मत यादव समेत तमाम कार्यकर्ता धरने पर बैठे रहे।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights