8.1 C
New York
Friday, April 19, 2024

Buy now

डीएम बोले‚ गोल्डेन कार्ड बनाने में लाएं तेजी

- Advertisement -

कलेक्ट्रेट सभागार में अफसरों संग बैठक करते डीएम संजीव सिंह।


शासी निकाय की बैठक में अफसरों को दिए निर्देश
चंदौली। जिलाधिकारी संजीव सिंह की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति शासी निकाय की बैठक बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में हुई। इस दौरान जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी निर्देश दिया कि गोल्डन कार्ड बनवाने में स्वास्थ्य विभाग की शिथिलता उजागर हो रही है, यदि इसमें गति नहीं आई तो संबंधित के खिलाफ कठोर कार्रवाई भी सुनिश्चित होगी। लगातार मॉनिटरिंग सुनिश्चित किया जाए।
जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारी को कहा कि प्रतिदिन मानिटरिंग करें। कॉमन सर्विस सेंटर से समन्वय स्थापित करते हुए अधिक से अधिक लोगों का गोल्डन कार्ड जारी कराने में पूरा योगदान दें। इसके अलावा आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को भी निर्देशित किया जाए कि गांव में जो लोग कॉमन सर्विस सेंटर से तत्काल अपना गोल्डन कार्ड बनवाना सुनिश्चित करें। गोल्डन कार्ड के नोडल कर्मचारी द्वारा गोल्डन कार्ड बनाने में शिथिलता बरतने पर वेतन रोकने के निर्देश दिए। हेल्थ वेलनेस सेंटर निर्माण कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि निर्माण कार्य की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं हो। कहा कि बैठकों में बार-बार निर्देशित किया जा रहा प्रभारी चिकित्सा अधिकारी हेल्थ वेलनेस सेंटर के निर्माण कार्य की निगरानी करते रहें ठेकेदारों द्वारा कहीं किसी भी प्रकार की लापरवाही न हो पाए इसके लिए मानिटरिंग बेहद जरूरी है। जननी सुरक्षा योजना में नियमताबाद के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी को फटकार लगाते हुए कार्यों में सुधार लाने के निर्देश दिए। जेएसवाई के लाभार्थियों की भुगतान में किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी इसके लिए लगातार भुगतान किया जाना सुनिश्चित हो। बरौनी चिकित्सा प्रभारी को निर्देशित करते हुए कहा कि 24 घंटे में लंबित पेमेंट का भुगतान सुनिश्चित किया जाए। परिवार नियोजन कार्यक्रम की भी भुगतान किसी भी स्तर पर लंबित न रखें। जिलाधिकारी ने सभी सीएससी व पीएससी के चिकित्साधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि समय से चिकित्सक उपस्थित होकर ओपीडी देखें मरीजों से समन्वय स्थापित करते हुए बेहतर स्वास्थ सुविधा उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें इसके अलावा नीति आयोग के पैरामीटर बेहतर कार्य करें। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी अजितेंद्र नारायण, मुख्य कोषाधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक आदि उपस्थित थे।

निष्क्रिय आशाओं को नोटिस बाद बर्खास्त करने के निर्देश
चंदौली। जनपद में 102 व 108 एंबुलेंस सेवा मरीजों को सुलभता से मिले। इसके लिए बेहतर कार्य योजना बनाया जाए। मरीज के द्वारा शिकायत संज्ञान में न आए इसका विशेष ध्यान रखा जाए। सभी सीएचसी व पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि क्षेत्र की आशा प्रत्येक गांव से महीने में कम से कम 2 प्रसव जरूर कराएं। निष्क्रिय आशाओं को नोटिस जारी करें, इसके बावजूद भी कार्यों में सुधार नहीं आता है तो बर्खास्त कर दे। गर्भवती एवं प्रसव वाली महिलाओं का बेहतर ध्यान रखा जाए। डिलीवरी के पश्चात समय-समय पर स्वास्थ्य संबंधित जानकारी लिया जाना सुनिश्चित किया जाए।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights