9.3 C
New York
Sunday, March 3, 2024

Buy now

चकिया में हाईटेंशन तार की चपेट में आने से किशोरी की मौत

- Advertisement -

चकिया नगर में किशोरी की मौत के बाद मौके पर जुटे लोग।


चकिया। नगर के वार्ड नंबर 6 सिविल लाइन पूर्वी में रानी की बावली के पास बिजली विभाग की लापरवाही के चलते छत पर झाड़ू लगा रही 13 वर्षीय वैष्णवी 11 हजार हाईटेंशन तार की चपेट में आ गई। उस दुर्घटना में किशोरी की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।
बताते हैं कि सोनभद्र जनपद के घोरावल निवासी राजेश राजभर की बड़ी पुत्री वैश्णवी रक्षाबंधन पर अपने अपने छोटे 8 वर्षीय भाई युवराज और अपनी नानी उर्मिला देवी के साथ रक्षाबंधन के त्यौहार पर चकिया स्थित अपने मामा मनीष राजभर के घर आई थी अपने परिवार के साथ मुंबई में रहकर मजदूरी करते हुए जीवन यापन करते हैं। रक्षाबंधन के त्यौहार पर वैष्णवी अपने भाई युवराज के साथ चकिया नगर के वार्ड नंबर 6 में स्थित अपने मामा मनीष राजभर के घर आई थी, लेकिन ऊपर वाले को कुछ और ही मंजूर था। शुक्रवार की सुबह अपनी मम्मी सजीत कर कर जिद कर व झाड़ू लगाने की बात का कर छत पर झाड़ू लगा रही थी उसी दौरान छत के ऊपर से गुजरे हाईटेंशन तार की चपेट में आकर वैष्णवी गंभीर रूप से झुलस गईद्य भांजी को को छटपटाता देख मामा मनीष राजभर भी तार से छुड़ाने के लिए उसे दौड़ पड़ेद्य घटना के दौरान मनीष जब तक कुछ कर पाते वैष्णवी ने दम तोड़ दिया थाद्य घटना की जानकारी मिलते ही तहसीलदार विकास धर दुबे, कोतवाल नागेंद्र प्रताप सिंह, अश्वनी दुबे, सभासद वैभव मिश्रा, समाजसेवी कैलाश जयसवाल, प्रीतम जयसवाल, अजय राय आदि मौके पर पहुंच गए। जहां तहसीलदार ने बिजली विभाग के अधिकारियों से वार्ता कर छत के ऊपर से गए हाईटेंशन के साथ को तत्काल हटवाने और मुआवजे की धनराशि देने की बात कही। बेटे की मौत की सूचना मिलते ही चकिया पहुंचे मृतक वैष्णवी के पिता राजेश और माता निशा देवी का रो-रोकर बुरा हाल था।
इनसेट—–
फरियाद सुन ली होती तो नहीं जाती जान
चकिया। मनीष राजभर छत के ऊपर से होकर गुजरे हाईटेंशन बिजली तार को हटाने के लिए तहसील दिवस में प्रार्थना पत्र के माध्यम से उच्चाधिकारियों को अवगत कराया, लेकिन उसका कोई असर अधिकारियों को नहीं पड़ा। विद्युत विभाग के घोर लापरवाही के चलते गई वैष्णवी की जान चली गयी। लोगों में जबरदस्त आक्रोश के बाद भी बिजली विभाग के अफसर मौके पर नहीं पहुंचे।

Related Articles

Ad

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights