28 C
New York
Monday, July 15, 2024

Buy now

एक बार फिर भिड़े सुशील और मनोज डब्लू समर्थक‚ जानिए क्या है वजह

- Advertisement -

चंदौली। बरहन निवासी ठेकेदार बृजेश सिंह के पोस्टमार्टम के दौरान जिला अस्पताल पर जमकर रविवार को भाजपा विधायक सुशील सिंह व सपा के मनोज सिंह डब्लू एक बार फिर आमने-सामने आ गए। ठेकेदार बृजेश सिंह की मौत को हत्या बताने वाले मनोज डब्लू पर विधायक सुशील सिंह के समर्थकों ने राजनीति ना करने का बात कही। इसी बात को लेकर दोनों पक्ष के समर्थकों में विवाद हो गया। प्रत्यक्षदर्शी बताते हैं कि सुशील समर्थक किसी युवक ने मनोज डब्लू के किसी समर्थक को थप्पड़ जड़ दिया, जिससे मामले ने तूल पकड़ा और उक्त युवक मनोज डब्लू के समर्थकों द्वारा वहीं पर पीटा गया। इस घटना से वहां तनाव की स्थिति कायम हो गयी। हालात बिगड़ता देख वहां मौके पर कई थानों की फोर्स के साथ ही जिले के कई आला पुलिस अफसरों को आना पड़ा।
बताते हैं कि बरहन निवासी ठेकेदार बृजेश सिंह की मौत के बाद धीना पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल ले आए। शव आने के बाद सैयदराजा विधायक सुशील सिंह व उनके कई समर्थक भी वहां डंट गए। इसी बीच सैयदराजा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू भी अपने समर्थकों संग पहुंचे और बृजेश की मौत को हादसा की बजाय हत्या करार दिया। कहा कि पीड़ित परिवार के तहरीर पर धीना पुलिस मामला दर्ज कर इसकी जांच करें और पीड़ित परिवार को न्याय दिलाए। यह बात वहां मौजूद सुशील सिंह के समर्थकों को नागवार गुजरी और उन्होंने इसका विरोध किया। विरोध में विवाद हुआ और इस कदर बड़ा कि मनोज डब्लू के किसी समर्थन को थप्पड़ मार दिया गया, जिससे गुस्साए मनोज समर्थकों ने दूसरे गोल के युवक को मारपीट दिया। मारपीट व तनातनी से वहां का माहौल तनावपूर्ण हो गया। मौके पर मौजूद पुलिस फोर्स ने बीचबचाव कर दोनों पक्षों को अलग किया। इसके बाद मनोज डब्लू पीड़ित परिवार को न्याय नहीं मिलने पर बड़े आंदोलन की चेतावनी पुलिस को देते हुए चले गए। हालांकि पोस्टमार्टम होने तक विधायक सुशील सिंह व उसके समर्थकों के साथ ही भारी संख्या में पुलिस बल तैनात रही।

…क्या कहते हैं मनोज डब्लू
चंदौली। इस बाबत मनोज डब्लू ने बताया कि विधायक सुशील सिंह मुझे देखते ही बेचैन हो उठते हैं और पोस्टमार्टम हाउस पर भी कुछ ऐसा ही हुआ। मेरे द्वारा पीड़ित परिवार की मांग को आगे बढ़ाया गया है। परिवार की मांग है कि उनके पुत्र की हत्या हुई है। मौके पर काफी दूर तक खून मिला है, वहां बाल मिले और वहां हुई हाथापाई के निशान भी है जो ठेकेदार बृजेश सिंह की हत्या की ओर इशारा करते है। इस प्रकरण में पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने की बजाय उस पर लीपापोती का प्रयास हो रहा है। यही बात सुशील समर्थक को नागवार लगी तो उसने मेरे साथ मौजूद युवक सुबाष को थप्पड़ मार दिया, जिससे स्थिति तनावपूर्ण हो गयी। चेताया कि पीड़ित परिवार को न्याय नहीं मिला तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

….क्या कहते हैं सुशील सिंह
चंदौली। सैयदराजा विधायक सुशील सिंह ने कहा कि इस प्रकरण से मेरा कोई सरोकार नहीं है। मैं पोस्टमार्टम हाउस पर मौजूद था और सपा नेता मनोज डब्लू आए और किसी बात को लेकर वहां मौजूद लोगों से उनका विवाद हुआ और मामला मारपीट तक पहुंच गया। यह दुर्भाग्यपूर्ण है मनोज डब्लू एक संवेदनहीन नेता है जो अपनी टीआरपी के लिए ऐसे कृत्य को अंजाम देते रहते है। मातम के मौके पर संवेदनाएं व्यक्त करनी चाहिए, जैसा कि अन्य लोगों ने किया।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights