25.3 C
New York
Wednesday, June 19, 2024

Buy now

जानिए कैसे निवेश के नाम पर ठगी कर रहे थे नीलगिरी इंफ्रासिटी के अधिकारी-कर्मचारी

- Advertisement -

पुलिस ने शिकंजा में सीएमडी–एमडी और मैनेजर‚ गए जेल
वाराणसी‚ पूर्वांचल डेस्क। यदि आप किसी लोकलुभावन व आसानी से पैसे डबल–त्रिपल करने वाले कम्पनी व उसके कर्मचारियों के सम्पर्क में हैं तो तुरंत सतर्क हो जाएगा। पैसों को निवेश करके डबल करने का आपका यह लोभ आपकी जमापूंजी को ले डूबेगा। जी हांǃ निवेश के नाम पर ठगी करनी वाली एक और कम्पनी का नाम पटल पर आया है। ताजा मामला वाराणसी से है‚ जहां पुलिस ने नीलगीरी इंफ्रासिटी के सीएमडी–एमडी व मैनेजर को गिरफ्तार कर जेल भेजा है जिन पर निवेश के नाम पर 10 करोड़ की ठगी का आरोप है। कम्पनी वाराणसी और चंदौली में लुभावने ऑफर देकर प्लॉट, गोल्ड में निवेश और पैकेज के नाम पर लोगों के ठगने वाली नीलगिरी के सीएमडी विकास सिंह, उनकी पत्नी एमडी ऋतु सिंह और मैनेजर प्रदीप यादव को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। सोमवार को पुलिस ने मलदहिया क्षेत्र की इंडियन प्रेस कॉलोनी स्थित नीलगिरी इंफ्रॉसिटी के मालिकों पर सोमवार को एक साथ धोखाधड़ी के 15 एफआईआर दर्ज किए। प्रकरण में 5 नामजद अफसा, संजय प्रजापति, अमित जायसवाल, पीयूष बरनवाल और अर्चना एकाउंटेंट के अलावा कंपनी से जुड़े अन्य लोगों की तलाश की जा रही है। कंपनी और इसके कर्ताधर्ताओं के खिलाफ वाराणसी और चंदौली के अलग-अलग थानों में धोखाधड़ी के आरोप में 30 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं।

कई राज्यों में फैला है ठगी का नेटवर्क
विकास सिंह और ऋतु सिंह तुलसीपुर महमूरगंज क्षेत्र के सुकून विला नंबर-11 सौभाग्य लक्ष्मी, विला रेजिडेंसियल सोसाइटी में रहते हैं। आरोप है कि नीलिगरी इंफ्रॉसिटी कंपनी वाराणसी और चंदौली में मार्केट रेट से काफी कम कीमत में प्लॉट देने का दावा करती थी। इसके अलावा गोल्ड में निवेश कराकर अच्छे मुनाफे और देश के पर्यटन स्थालों के लिए टूर पैकेज भी देती थी।
लुभावने ऑफर के झांसे में आकर यूपी के पूर्वांचल से लगे बिहार, झारखंड, गुजरात और मध्य प्रदेश के सैकड़ों लोगों ने करोड़ों रुपए कंपनी में निवेश किए थे। जो भी पैसा निवेश करता था, उससे कंपनी के सीएमडी, एमडी और निदेशक शुरुआत में बेहद अच्छे से पेश आते थे और फिर बाद में संपर्क ही खत्म कर देते थे। इसे लेकर कंपनी के इंडियन प्रेस कॉलोनी स्थित कार्यालय में कई बार मारपीट और हंगामा हो चुका था। निवेशकों ने कंपनी के कर्ताधर्ताओं पर कई बार कार्यालय बुलाकर मारपीट का आरोप भी लगाया था।


निवेश के वक्त सतर्कता बेहद जरूरी
वाराणसी। पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने कहा कि आमजन से अपील है कि कहीं भी अपना पैसा निवेश करते समय अच्छी तरह से देख-समझ लें। लुभावने ऑफर के चक्कर में आकर अपनी जीवन भर की कमाई को दांव पर न लगाएं। चेतगंज थाने की पुलिस नीलगिरी इंफ्रॉसिटी कंपनी के मालिकों और धोखाधड़ी में संलिप्त अन्य लोगों के खिलाफ जल्द ही अदालत में आरोप पत्र दाखिल करेगी। पुलिस अदालत में प्रभावी पैरवी कर आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाएगी।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights