28 C
New York
Monday, July 15, 2024

Buy now

पुलिस ने पेशेवर फर्जी जमानतदारों के गिरोह का किया पर्दाफाश , दो गिरफ्तार

- Advertisement -

चंदौली – सदर कोतवाली ने एक ऐसे गैंग का खुलासा किया है.जो जेल में बंद शातिर अपराधियों की कूटरचित कागजातों के सहारे जमानत कराता था. गैंग के सरगना के समेत 2 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि पिछले काफी दिनों से सूचना प्राप्त हो रही है जनपद के विभिन्न जघन्य अपराधों में जेल में निरुद्ध शातिर अपराधियों की जमानत पेशेवर जमानतदारों द्वारा पुलिस एवं राजस्व विभाग का कूटरचित जमानत सत्यापन आख्या तैयार कर एवं कूटरचित मोहर लगाकर कराई जा रही है।

अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि प्रभारी निरीक्षक सदर अशोक मिश्रा व चौकी प्रभारी कस्बा मनोज कुमार पाण्डेय की टीम गठित कर पेशेवर जमानतदारो के गैग के पर्दाफाश एवं गिरफ्तारी का निर्देश दिया. गठित टीम द्वारा फर्जी जमानतदारों की सूची तैयार की गयी और इस सूची को न्यायालय को भी प्राप्त कराया गया. जिसका संज्ञान न्यायालय द्वारा भी लिया गया. गठित टीम को सूचना मिली कि पेशेवर जमानदारों का एक गिरोह थाना अलीनगर में पजीकृत भादवि से सम्बन्धित जेल में निरुद्ध अभियुक्त जौनपुर निवासी अली हुसैन जमानत सत्यापन आदेश के पश्चात थाना के कूट रचित सत्यापन आख्या रमेश सिंह के नाम से तैयार कर कूटरचित मोहर लगाकर तथा तहसीलदार राजस्व के कूटरचित आख्या पर कूटरचित मोहर लगाकर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के कार्यालय में सोमवार को पत्रावली में रखने वाला है. इस दौरान तहसील परिसर से पुलिस ने उसे न्यायालय के बाहर धर दबोचा.

पुलिस ने बताया कि जिस रमेश सिंह के नाम की आख्या थाना चन्दौली के नाम से न्यायालय में प्रेषित किया गया है.जबकि इस नाम का निरीक्षक नियुक्त नहीं है,और न ही विगत कई वर्षों में नियुक्त रहा है. बताया कि अभियुक्त विनोद कुमार ग्राम छित्तो व भोला निवासी ग्राम फुटिया थाना व जिला चन्दौली है. उसके पास से रमेश सिंह थाना चन्दौली के नाम की कूटरचित आख्या एवं मोहर के साथ तहसीलदार सदर चन्दौली के नाम की कूटरचित आख्या एवं मोहर मिला है. गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में अशोक कुमार मिश्र, मनोज कुमार पाण्डेय, अखण्ड प्रताप रहे.

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights