8.1 C
New York
Friday, April 19, 2024

Buy now

हस्ताक्षर करके गायब दो शिक्षकों का वेतन रोका नेशनल इंटर कालेज के निरीक्षण में डीआईओएस ने पकड़ी गड़बड़ी

- Advertisement -

चन्दौली।सैयदराजा। जिला विद्यालय निरीक्षक डा. विजय प्रकाश सिंह मंगलवार को नेशनल इंटर कालेज के दौरे पर थे। इस दौरान उपस्थिति पंजिका पर हस्ताक्षर करके दो शिक्षक कालेज से गायब मिले। इस लापरवाही पर डीआईओएस खासे नाराज दिखे और उन्होंने लापरवाह शिक्षकों का वेतन रोक दिया और एक सप्ताह के अंदर स्पष्टीकरण तलब किया। वहीं कक्षाएं संचालित होने के बावजूद कुछ शिक्षकों के कक्षाओं से बाहर होने पर जमकर फटकार लगाई। जिला विद्यालय निरीक्षक डा. विजय प्रकाश सिंह के जब नेशनल इंटर कालेज के उपस्थिति पंजिका का अवलोकन के उपरांत मौजूद शिक्षकों का भौतिक सत्यापन किया तो शिक्षक रामनगीना सिंह और रजनीकांत सिंह गायब मिले। जांच में इन शिक्षकों के अक्सर गायब रहते की शिकायत पुष्ट होने पर डीआईओएस इन दोनों शिक्षको का वेतन अगले आदेश तक रोक दिया। जांच के दौरान प्रधानाचार्य भी अनुपस्थित थे। कार्यवाहक प्रधानाचार्य से  फीस के बाबत पूछताछ करने पर कुछ भी ना मालूम होने की बात कही। शिक्षको ने बताया कि फीस कार्यालय में ना जमा होकर प्रधानाचार्य के पास जमा होती है जिस पर डीआईओएस ने नाराजगी व्यक्त करते हुए जमकर क्लास लगाई। वहीं फीस रजिस्टर की जांच के दौरान सभी फीस रसीद पर एक ही शिक्षक मार्कण्डेय प्रसाद का हस्ताक्षर मिला। इस बाबत जवाब-तलब किया और चेताया कि यदि किसी भी प्रकार की वित्तीय अनियमितता मिली तो हस्ताक्षर करने वाले शिक्षक पर कठोर करवाई की जाएगी। वहीं जनरेटर के नाम पर वसूले जा रहे शुल्क बाबत भी नाराजगी जताई। अंग्रेजी के प्रवक्ता अर्पण सिंह को शिक्षको और छात्रों के व्हाट्सएप ग्रुप में आपत्तिजनक बाते लिखने पर जमकर क्लास लगाई और भविष्य में इस तरीके की बातों के पुनरावृत्ति होने पर शिक्षक को निलंबित करने की चेतावनी दी। इसके साथ ही शिक्षको की छुट्टी के लिए अलग से रजिस्टर बनाने को कहा।इनसेट– क्या कहते हैं डीआईओएससैयदराजा। डीआईओएस डा. विजय प्रकाश सिंह ने बताया कि नेशनल इंटर कालेज में जांच में भारी अनियमितता मिली। प्रधानाचार्य के अनुपस्थित होने के फीस का पूरा विवरण नहीं मिल सका। प्रधानाचार्य और प्रबन्धक को फीस के विवरण के साथ गुरुवार को तलब किया गया है। विद्यालय में फीस में यदि किसी प्रकार की वित्तीय अनियमितता मिली तो सम्बन्धित शिक्षक और लिपिक के ऊपर कार्यवाई की जाएगी।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights