2.9 C
New York
Thursday, February 22, 2024

Buy now

सौतेली मां के साथ गई तीन सगी बहनों का मिला नर कंकाल

- Advertisement -

फोरेंसिक टीम ने भी किया जांच पड़ताल नरकंकालों के पोस्टमार्टम व डीएनए जांच के लिए ले गई साथ

हलिया(मिर्जापुर)‚ पूर्वांचल डेस्क। थाना क्षेत्र के हर्रा जंगल में बेलाही गांव निवासी तीन सगी बहनों का नर कंकाल मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। मौके पर पहुंचे बालिका के पिता देवीदास कोल ने बालिकाओं के कपड़े से शिनाख्त किया और बुधवार सुबह दस बजे के करीब हर्रा जंगल में तीन नर कंकाल मिलने की सूचना पुलिस को दिया। पिता की सूचना पर हलिया पुलिस हर्रा जंगल में पहुंचकर जांच पड़ताल की और पिता देवीदास और सौतेली मां सीमा उर्फ बिटोल के भाई रमाकांत से मिले नर कंकालों के संबंध में जानकारी ली और बयान दर्ज किया।

देवीदास कोल की दूसरी पत्नी सीमा अपने तीनों सौतेली बेटियों गोलू 12, ममता 10 मुन्नी 8 को लेकर कमाने के लिए  बीते 16 अगस्त को इंदौर के लिए रवाना हुई थी साथ में कोरांव की सुनीता भी प्रयागराज से साथ में गई थी। काम नहीं मिलने पर सभी लोग इंदौर स्टेशन पर रहते थे। पांच दिन बीत जाने के बाद सीमा भाई के बुलाने पर बेटियों को सुनीता को सौंपकर घर वापस लौट आई। बीते 27 अगस्त को पति देवीदास कोल व भाई रमाकांत कोल के साथ सीमा इंदौर गई‚ लेकिन वहां न तीनों बालिकाएं मिली न तो सुनीता कोल काफी खोजबीन के बाद बालिकाओं का पता नहीं चलने पर सीमा अपने पति व भाई के साथ घर लौट आई और बीते 2 सितम्बर को थाने में बालिकाओं के लापता होने की तहरीर दी। मंगलवार को बालिकाओं के सौतेले मामा रमाकांत ने बालिकाओं के पिता को सूचना दी कि तीन बालिकाओं का नरकंकाल हर्रा जंगल में मिला है। साले की सूचना पर देवीदास हर्रा जंगल में गया और कपड़ों को देखते ही बताया कि यह तो बेटियों के कपड़े हैं। बुधवार सुबह देवीदास कोल ने थाने में तहरीर देकर बताया कि हर्रा जंगल में तीन नर कंकाल मिले हैं नर कंकाल के पास मिले कपड़े बेटियों के हैं। थाना क्षेत्र में तीन नर कंकाल मिलने की सूचना पर पुलिस के हाथ पांव फूल गए। मौके पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक राजकुमार सिंह‚ चौकी प्रभारी मतवार रामनगीना यादव ने घटना स्थल की जांच पड़ताल की। बालिका के पिता देवीदास और सौतेले मामा रमाकांत से कड़ाई से पूछताछ कर बयान दर्ज किया।हर्रा जंगल में फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल का बारीकी से जांच पड़ताल कर तीनों नर कंकालों के पोस्टमार्टम व डीएनए टेस्ट के लिए ले गई।

इनसेट–––

सौतेली मां सीमा घर से फरार, पुलिस तलाश में जुटी मिर्जापुर। बालिकाओं के सौतेले मामा रमाकांत को सगरा गांव निवासी उसकी चचेरी बहन ने फोन से सूचना दी कि हर्रा जंगल में चरवाहे तीन नर कंकाल मिलने की चर्चा कर रहे हैं बहन की सूचना पर चरवाहों के बताए गए स्थान पर जीजा देवीदास कोल को लेकर रमाकांत हर्रा जंगल में गया जहां कपड़ो से तीनों बालिकाओं की पहचान परिजनों ने किया।सवाल यह उठता है कि जब तीनों बालिकाओं को सौतेली मां इंदौर लेकर गयी थी तो हर्रा जंगल में तीनों का नर कंकाल कैसे पहुंचा। सौतेली मां सीमा कोल का घर से अचानक गायब होना बालिकाओं के साथ किसी अनहोनी की आशंका पैदा करता है। बालिकाओं के मिले कंकाल से यही जाहिर होता है कि तीनों बालिकाओं की निर्ममता पूर्वक हत्या कर शव को जंगल में फेंक दिया गया था। फिलहाल मामले की छानबीन में पुलिस जुटी हुई है। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक राजकुमार सिंह ने बताया कि तीनों नर कंकालों को पोस्टमार्टम व डीएनए टेस्ट के लिए भेज दिया गया है। मामले की गहराई से जांच पड़ताल की जा रही है। फरार सौतेली मां की तलाश की जा रही है। पिता व सौतेले मामा को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

Related Articles

Ad

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights