24.3 C
New York
Tuesday, June 25, 2024

Buy now

ड्रेन की सफाई के लिए पानी में खड़े होकर किया प्रदर्शन,जलमग्न होकर बर्बाद हुई धान की फसल

- Advertisement -


कमालपुर। क्षेत्र स्थित हेतमपुर ताल में ड्रेन की सफाई को लेकर रविवार को किसानों ने ताल में प्रदर्शन किया। इस दौरान कृषि कार्य से जुड़े कई अवकाश प्राप्त सैनिकों ने जिला प्रशासन के कामकाज पर सवाल खड़े किए और विरोध में नारेबाजी की। कहा कि धान की फसल बर्बाद हो चुकी है। यदि समय से ड्रेन साफ नहीं हुआ तो रबी की फसल पर इसका व्यापक असर पड़ेगा। किसानों ने जिलाधिकारी सहित क्षेत्रीय सासंद और क्षेत्रीय विधायक का ध्यान इस ओर आकृष्ट कराते हुए समस्या के समाधान की आवश्यकता जताई है।
विदित हो कि गौसपुर, मड़ैया, जीयनपुर, हेतमपुर, ढोढियां, नौरंगाबाद के किसानों का खेत हेतमपुर ताल में हैं। खेतों से जल निकासी की व्यवस्था अवरुद्ध होने के कारण किसान परेशान हैं। खेतों से होकर जाने वाली ड्रेन जो कमालपुर होते हुए अगहर बीर बहुरिया नदी में मिलती है उसकी सफाई कई साल से नहीं हुई है। इस कारण किसानों की फसल जलमग्न है। रोपाई के बाद ही धान की फसल जलमग्न होकर गल गई थी। फसलें बर्बाद होने की दशा में किसानों ने दुबारा रोपाई कराई, जिससे दूनी लागत लगने के बाद भी फसल बर्बाद हो गयी। किसानों का कहना है कि यही हाल रहा तो रबी की बुवाई भी प्रभावित होगी। जिसके कारण सभी किसानों की आर्थिक क्षति के साथ साथ भूखों मरने की नौबत आ जाएगी। गौसपुर ग्राम प्रधान रमाकांत यादव, हेतमपुर ग्राम प्रधान सतीश उपाध्याय, जीयनपुर ग्राम प्रधान शिवकुमार सिंह, ढोढियां ग्राम प्रधान फिरोज खान ने ड्रेन की सफाई पर बल पर दिया और इसे दूर करने के लिए जनप्रतिनिधियों को आगे आने की बात कही। प्रदर्शन करने वाले किसानों में सूबेदार मेजर नरेन्द्र यादव, सूबेदार मेजर बालकिशुन विश्वकर्मा, भूतपूर्व सैनिक जय सिंह, भूतपूर्व सैनिक विजय बहादुर यादव, भूतपूर्व सैनिक जंग बहादुर यादव, राजनाथ यादव, शिवकेदार यादव, प्रिंस यादव, दीपक यादव उपस्थित रहे।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights