फूंक रहे थे पीएम और सीएम का पुतला‚ मौके पर पहुंची पुलिस ने छिना


चंदौली। लखीमपुर प्रकरण में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त करने सहित किसानों की हत्या करने वाले सभी आरोपियों को कड़ी कानूनी कार्यवाही की मांग की। किसानों ने मांग किया कि किसान विरोधी तीनों काला कानून रद्द किया जाय। संयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय आह्वान पर चंदौली जिला मुख्यालय स्थित सोनकर बस्ती से मोदी, योगी व अजय मिश्र सहित तमाम भाजपा नेताओं का प्रतीक पुतला लेकर किसान नेताओं ने जुलूस निकाला।
इस दौरान किसान नेता शशिकांत सिंह ने कहा कि मोदी योगी सरकार तानाशाही पर उतर चुकी है किंतु नजरबंदी व गिरफ्तारी जैसी कार्यवाहीयों से आंदोलन रुकने वाला नहीं है। लखीमपुर खीरी घटना की साजिश रचने वाले केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को मंत्रिमंडल से बर्खास्त किया जाय। कहा कि यूपी पुलिस हमारे तमाम नेताओं को उनके घरों पर हाउस अरेस्ट कर ली है कुछ लोगों की गिरफ्तारियां कर ली है किन्तू हमारा आंदोलन पीछे हटने वाला नहीं है। पुतला दहन की सूचना पर सदर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और किसानों से पुतला छिन लिया। बावजूद इसके किसानों ने ऐलान किया कि 18 अक्टूबर को भारी संख्या में मुगलसराय रेल चक्का जाम करने पहुंचेंगे। इंकलाबी नौजवान सभा जिला काउंसिल सदस्य राजू सोनकर ने कहा कि यह आंदोलन किसान विरोधी तीनों कृषि कानून रद्द करने की मांग पर चल रहे आंदोलन का हिस्सा है और हम सभी नौजवान जो उन्ही किसान परिवार से आते हैं इस आंदोलन के साथ हैं और मोदी योगी सरकार अगर दमन के सहारे आंदोलन को खत्म करने की कोशिश करने में लगी है तो हम ऐसा कतई नहीं होने देंगे। इस मौके पर अक्षय लाल सोनकर, राजू सोनकर, बिंदू देवी, सरिता देवी, कलावती देवी, श्यामपति, रविकांत शामिल रहे।