जवान का पार्थिव शरीर पहुँचा गांव में छाया मातम, जन प्रतिनिधि लगा तांता

चंदौली : जिले के नियामताबाद विकासखंड स्थित हीरामनपुर गांव निवासी एनएसजी कमांडो राकेश कुमार यादव (41) का पार्थिव शरीर उनके पैतृक आवास पर पहुँचा. जहां हजारों की संख्या में मौजूद लोगों की आँखे नम है. आसपास के गांवों में मातम का माहौल व्याप्त है. 

जानकारी के अनुसार बंगलूरू में प्रशिक्षण के दौरान जवान राकेश कुमार यादव की हार्ट अटैक के कारण निधन हो गया. घटना की जानकारी होने पर परजिनों सहित में मातम छाया हुआ है। परिजनों के अनुसार राकेश कुमार यादव (41) एनएसजी में कमांडो के पद पर पंजाब के भटिंडा में तैनात थे. कुछ दिनों पूर्व उनकी पदोन्नति जेसीओ पद पर हुई थी. इसकी ट्रेनिंग के लिए उन्हें कर्नाटक के बंगलूरू प्रशक्षिण केंद्र में भेजा गया था. रविवार को प्रशिक्षण के दौरान ही हृदयाघात से उनकी मौत हो गई. 

 
मृतक की पत्नी वंदना यादव बेसुध पड़ी हैं वहीं पुत्री सपना व पुत्र मोहित सहित अन्य परिजन काफी सदमे में है. सैनिक का पार्थिव शरीर उनके पैतृक आवास पहुँचते ही पूरा क्षेत्र मातम में बदल गया. परिजनों के साथ ही गांव के लोगों के भी आँसू रुकने का नाम नहीं ले रहे.

एनएसजी कमांडो चन्दौली के लाल की मौत की सूचना के बाद चंदौली जिले के समाजवादी पार्टी के पूर्व सांसद  रामकिशुन यादवऔर सैयदराजा के पूर्व विधायक मनोज कुमार सिंह डब्लू सकलडीहा विधायक प्रभु नारायण सिंह यादव , चंद्रशेखर यादव समेत तमाम जन प्रतिनिधि जवान की अंतिम बिदाई में शामिल होने उनके घर पहुँच गए. 
वहीं जिले भर से तैयारी करने वाले युवाओं की भी भारी भींड़ जवान की अंतिम विदाई में शामिल होने के लिए पड़ाव से ही जुलुश की शक्ल उनके पार्थिव शरीर के साथ उनके आवास पहुँचे. इस दौरान देश भक्ति के नारों और गीतों से इलाका गूंजता रहा.