25.3 C
New York
Friday, July 19, 2024

Buy now

लतीफशाह कुंड में नहाने समय डूबने से दो सगे भाइयों की मौत‚ तीन को बचाया

- Advertisement -

चकिया। कोतवाली क्षेत्र के लतीफशाह में बुधवार की शाम दो सगे भाई नहाते समय कुंड में डूब गए, जिससे उनकी मौत हो गयी। बताते हैं कि वह तलीफशाह मजार पर दुआख्वानी और पिकनिक मनाने आए थे। एक ही परिवार के पांच लोग लतीफ शाहकुंड में नहाने के दौरान डूब गए। आसपास मौजूद ग्रामीणों ने किसी तरह तीन युवकों को बचा लिया, लेकिन दो सगे भाई आजाद खां 35 और माहताब खां 32 वर्ष की डूबने से मौत हो गई। सूचना पर मौके पर पहुंची कोतवाली पुलिस घंटों प्रयास के बाद दोनों के शव को कुंड से बाहर निकला और कब्जे में लेकर अगली कार्रवाई में जुट गयी। घटना के बाद परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।
बताते हैं कि हरियाणा प्रदेश के फरीदाबाद के डबुआ (एनआईसी) कालोनी निवासी आयाम खां के दो सगे बेटे आजाद और मेहताब सपरिवार अपने रिश्तेदार सोनभद्र जनपद के कर्मा थाना अंतर्गत पगिया गांव में वजूद खां मास्टर के घर पर आए हुए थे, जहां से वजूद खां सभी को साथ लेकर चकिया क्षेत्र के लतीफशाह में चादरपोशी और दुआख्वानी करने के साथ ही पिकनिक मनाकर शहाबगंज विकासखंड के ठेकहा गांव निवासी शफीक खां के यहां जाने वाले थे। लतीफशाह मजार पर दुआ ख्वानी करने के बाद वजूद खां और उनके साथ आए रिश्तेदार खाना बनाने लगे। उसी दौरान आजाद और माहताब अपने चचेरे भाई अनस खां 17, कुदशी 14 और आरिज 10 वर्ष के साथ डैम के उत्तरी हिस्से में स्थित कुंड में नहाने लगे। इसी दौरान सभी गहरे पानी में चले जाने की वजह से सभी डूबने लगे। चींख-पुकार सुनकर चकिया के वार्ड नंबर 9 निवासी गोलू और उनके उसके अन्य साथियों ने अपना जान जोखिम में डालकर उन्हें बचाने के लिए कुंड में छलांग लगा दी। काफी मशक्कत के बाद लोगों ने अनस, कुदशी और आरिफ को तो बचा लिया, लेकिन आजाद और मेहताब को नहीं बचा पाए। घटना की सूचना मिलते ही एडिशनल एसपी आपरेशन दयाराम भारती, कोतवाल राजेश यादव पुलिस टीम के साथ तत्काल मौके पर पहुंच गए। गोताखोरों ने ती घंटे की मशक्कत के बाद दोनों भाइयों को पानी से बाहर निकाला। कोतवाल राजेश यादव ने बताया कि दोनों शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया है। घटना से सहमे मृतक आजाद की पत्नी अंजूम, अनस, कुदशी,आरिश, वजूद खां और माहताब की पत्नी और बच्चों का रो रो कर बुरा हाल था। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे विधायक प्रतिनिधि अश्वनी दुबे ने परिजनों को ढांढस बंधाया और पुलिस अधीक्षक से फोन से वार्तालाप की और रात में ही शव का पोस्टमार्टम करने की बात की।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights