…जाते-जाते मुस्लिम जमात को साध गए अबू आजमी

चंदौली। अबू आशीम आजमी, वर्तमान में सपा का बड़ा मुस्लिम चेहरा। जो शनिवार को जनपद दौरे पर थे। उन्होंने मुस्लिम बाहुल्य इलाके सतपोखरी में जुटे जमात को एक मंच पर आने का न्यौता दिया। परिवर्तन यात्रा लेकर आए अबू आजमी ने सभा में बात कृषि बिल और किसानों की, लेकिन वह सभा से जाते-जाते मुसलमान मतदाताओं को साध गए। कहा कि षड्यंत्रों से सावधान रहे हैं और समाजवाद के नारे को बुलंदी तक पहुंचाएं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अहंकार भरा व्यक्तित्व करार दिया। कहा कि कृषि कानून बिल कैसे वक्त में वापस लिया गया, आज पूरा देश इसे देख व समझ रहा है। 700 से अधिक किसानों की शहादत के बाद भी सरकार की संवेदनाएं नहीं जागी। अब जबकी भाजपा की जमीन खीसक चुकी है तो न चाहते हुए भी दुखी मन से कृषि बिल को वापस लिया है।
महाराष्ट्र के प्रदेश अध्यक्ष अबू आजमी ने कंगना रनौत के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि ऐसे लोगों को तो अब तक जेल में होना चाहिए, जिन्होंने वीर क्रांतिकारियों की शहादत का अपमान किया है। ये लोग सरकार के तलबे चाटने वाले लोग हैं जो अपने निजी स्वार्थ के लिए आए दिन अनर्गल बयानबाजी करते रहे है। ऐसे लोगों से अवार्ड वापस लेकर उन्हें जेल भेज देना चाहिए। कहा कि देश की आजादी के लिए न जाने कितने क्रांतिकारी वीरों ने अपनी शहादत दी। उस दौरान में दिल्ली से लेकर अमृतसर तक एक-एक दरख्त पर मुस्लिम उलेमाओं व क्रांतिकारियों को शहीद कर उनके शव टांग दिए गए थे और कुछ लोग कहते हैं कि 1947 की आजादी भीख में मिली है। कहा कि समाजवादी कुनबा तेजी से बढ़ रहा है और उसके साथ ही लोगों में पार्टी की लोकप्रियता भी बढ़ती जा रही है। उन्होंने आजमगढ़ का नाम बदले जाने के सवाल पर सीएम योगी आदित्यनाथ की चुटकी ली और शायराना अंदाज में कहा कि पुराने शहरों के नाम बदलने से क्या होगा, नया कोई शहर बसाओ तो कोई बात बने। भाजपा राज में यूपी की हालत दिन-ब-दिन खराब होती जा रही है। कब किसकी हत्या हो जाय कहा नहीं जा सकता। इतनी झूठी सरकार तो इस देश के लोगों ने कभी नहीं देखी। आज इस सरकार पर किसी का ऐतबार नहीं है भाजपा ने चुनाव में जो भी वादे किए, जब झूठे निकले। एक भी वादे भी भाजपा खरी नहीं उतरी। कहा कि भाजपा सरकार अल्पसंख्यक वोटों के बिखराव का षड्यंत्र कर रही है और ओवैसी उसी षड्यंत्र का हिस्सा है, लेकिन वर्तमान में मुस्लिम मतदाता पूर्णतः समाजवादी पार्टी के साथ हैं। कहा कि हिन्दू-मुस्लिम भाइयों को लड़ाने वाली भाजपा सरकार ने हिन्दु भाइयों के साथ क्या किया यह किसी से छिपा नहीं है। पूरी दुनिया ने उस भयावह मंजर को देखा कि कैसे हिन्दू भाइयों की लाशें गंगा-यमुना में बह रही थी। कुत्ते उसे नोच रहे थे। शमशानों से लकड़ियां गायब थी। उस जख्म को देश अभी नहीं भूला है।