13 C
New York
Monday, May 20, 2024

Buy now

खराब मौसम के कारण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का चंदौली दौरा हुआ रद्द

- Advertisement -

Young Writer, चहनियां। जिले में बाढ़ग्रस्त इलाकों का मुख्यमंत्री के दौरा करने का कार्यक्रम निरस्त हो गया है। वह गाजीपुर से सीधे वाराणसी निकल गए। इसकी पुष्टि डीएम संजीव सिंह ने की। सीडीओ ने बताया कि सुबह हुई बारिश और मौसम खराब होने के चलते उनका दौरा निरस्त हुआ है।
डीएम ने मुख्यमंत्री का संदेश सुनाया। कहा कि सीएम ने कहा है कि बाढ़ प्रभावित लोगों के साथ उनकी सहानभूति और संवेदनाएं है। सभी पीड़ितों को शासन और जिला प्रशासन की ओर से पूरी मदद की जाएगी। इसमी रिपार्ट भी जिला प्रशासन से प्रतिदिन ली जा रही है। इस दौरान विधायकों और जनप्रतिनिधियों ने शेयर में रह रहे लोगो को राहत सामग्री की किट वितरित की। डीएम ने कहा कि 128074 हेक्टेयर में फैले जिले के 324 गांवों में 120 गांव गंगा, 185 गांव कर्मनाशा, 44 गांव गडंई, 85 गांव चन्द्रप्रभा नदी से प्रभावित है। उन्होंने बताया कि सकलडीहा के दो गांव मुकुन्दपुर व प्रसहटा के विस्थापित 125 परिवारों के लिए भोजन, 304 पशुओं के लिए 67 कुन्तल भूसा आदि की व्यवस्था की गई है। डीएम ने कहा कि जिला व तहसील स्तरीय सभी अधिकारियों को मुख्यमंत्री का स्पष्ट निर्देश है कि बाढ से कोई जनहानि न हो और सभी बाढ पीड़ितों की धर्म जाति से ऊपर उठकर हर सम्भव मदद की जाय।

जनप्रतिनिधियों ने बाढ़ प्रभावित लोगों में बांटी राहत सामग्री

Young Writer, चहनियां। जिले में आई बाढ़ प्रभावित गांवों और वहां के हालतों का जायजा लेने बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सकलडीहा तहसील के बलुआ पहुंचने वाले थे, किन्तु वाराणसी में आयोजित समीक्षा बैठक के कारण जिलाधिकारी के माध्यम से भेजे सन्देश में जनप्रतिनिधियों के द्वारा जिले के सभी बाढ पीड़ितों को राहत सामग्री वितरित कराने का निर्देश दिया।
बलुआ सराय के गुलशन मेमोरियल कालेज में उनका हेलीकॉप्टर उतारने के लिए सुबह से ही कारीगरों की टीम लगी हुई थी। शाम पौने पांच बजे जिलाधिकारी संजीव सिंह द्वारा मंच से मुख्यमंत्री का सन्देश पढ़ते हुए यह बताया गया कि अतिव्यस्तता के कारण मुख्यमंत्री जी नही आ पाएंगे। जिसके बाद उपस्थित लोगों में निराशा का भाव उत्पन्न हो गया और लोग अपने अपने घरों को चल दिए। तभी मंच पर उपस्थित विधायकों व प्रशासनिक अधिकारियों ने दर्जन भर लाभार्थियों को बाढ राहत सामग्री लाई, रिफाइन, तेल, आलू, मशाला, आटा, चावल, बाल्टी, मग, झोला सेनेटरी पैड सहित अन्य दैनिक जीवनोपयोगी सामान वितरित किया। इसके बाद अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर जिले में बाढ़ का हालात को जाना। सीएम के दौरे को लेकर इंतजाम चाक चौबंद रहे और गंगा किनारे में एनडीआरएफ समेत पीएसी और पुलिस टीम तैनात रही। इस मौके पर राज्यसभा सांसद दर्शना सिंह, विधायक कैलाश आचार्य, सैयदराजा विधायक सुशील सिंह‚ विधायक रमेश जायसवाल, जिलाध्यक्ष अभिमन्यु सिंह, अनिल सिंह, सर्वेश कुशवाहा, राणा प्रताप सिंह, जितेंद्र पांडेय, सुरेंद्र सिंह, राजेन्द्र पाण्डेय, सूर्यमुनी तिवारी, आनन्द तिवारी सोनू, शायरा बानो, अमृत चौरसिया, चन्दन जायसवाल, संकठा राजभर उपस्थित रहे। इसके अलावा डीएम संजीव सिंह, एसपी अंकुर अग्रवाल, सीडीओ अजितेंद्र नारायण, एडीएम उमेश मिश्रा, एसडीएम अविनाश कुमार, एसडीएम मनोज पाठक मौजूद रहे। संचालन सीडीओ अजितेन्द्र नारायण ने किया।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights