धानापुर पठान टोली में रास्ते पर बह रहा नाबदान का पानी‚ आमजन को हो रही परेशानी

धानापुर पठान टोली में रास्ते पर जमा नाबदान के पानी से होकर गुजरता साइकिल सवार।
धानापुर पठान टोली में रास्ते पर जमा नाबदान के पानी से होकर गुजरता साइकिल सवार।

पैदल, साइकिल व बाइक चालकों को आवागमन में हो रही दिक्कत

Young Writer, धानापुर। शहीदी धरती धानापुर लम्बे समय से गंदगी व जलजमाव की चपेट में है। कस्बा स्थित पठान टोली के जाने वाला रास्ता जल निकासी का समुचित प्रबंध नहीं होने के कारण नाले में तब्दिल हो गया है। स्थानीय लोग आने-जाने में हो रही दिक्कत, दुर्गंध व अन्य दैनिक दुश्वासियों को देखते हुए जिम्मेदार अफसरों व जनप्रतिनिधियों से गुहार लगाई। लेकिन समस्या के प्रति किसी ने भी गंभीरता नहीं दिखाई।
धानापुर पठान टोली से होकर गुजरे मुख्य मार्ग पर लम्बे समय से नाबदान का पानी बह रहा है, जिससे अक्सर लोग साइकिल सवार व पैदल राहगीर गिरकर चोटिल होते रहते हैं। सबसे ज्यादा दिक्कत महिलाओं व स्कूली बच्चों के साथ ही वृद्धजनों को होती है। इसके अतिरिक्त नमाजियों को भी उसी गंदे पानी भरे रास्ते से गुजरना पड़ता है। क्योंकि मस्जिद तक जाने का कोई और रास्ता नहीं है। स्थानीय लोगों का कहना है कि यदि जल निकासी का समुचित प्रबंध कर दिया जाए तो इस समस्या से काफी निजात मिल जाएगी। निरंतर जलजमाव होने से अब रास्ता भी क्षतिग्रस्त हो गया है, जो अब आवागमन योग्य नहीं रहा। यदि जल्द समस्या का समाधान नहीं किया गया तो पठान टोली के साथ ही आसपास के लोगों और दिक्कत होगी। प्रधान रामजी कुशवाहा का कहना है कि उक्त समस्या के समाधान के लिए मशीन से सफाई कराई गई थी, लेकिन समस्या हल नहीं हुई। इसका प्रस्ताव भेजा गया है स्वीकृति मिलते ही नाली व सड़क दोनों का निर्माण करा दिया जाएगा।