चंदौली-चहुओर गंदगी से मलेरिया व डेंगू पनपने का खतरा


चंदौली। बीते दिन बारिश के कई स्थान में जल भराव की स्थिति बनी हुई है। बदलते मौसम के कारण जहा उल्टी दस्त की शिकायत बढ़ रही हैं। वही नगर में चहुओर गंदगी से जानलेवा मलेरिया व डेंगू का  पनपने का खतरा लोगो पर मंडरा रहा हैं ।आलम यह है कि नगर क्षेत्र के अधिकांश वार्ड गली मोहल्ले में मच्छरों का प्रकोप देखने को मिल रहा है । लोगो को दिन और रात हर रोज मच्छरों के आतंक से झूझना पड़ रहा हैं। इन मच्छरों से निजात पाने के लिए लोगो द्वारा नाना प्रकार के इंतजामात किये जा रहे है। परंतु नतीजा सिफर रहता हैं।

मच्छरों के आतंक से लोग परेशान है। वही नगर पंचायत द्वारा मच्छर मारने वाली मशीन से दवा का छिड़काव नही होने से लोगों में आक्रोश देखा जा रहा हैं। नगर पंचायत द्वारा नगर के किट -पतंगों, डेंगू, मलेरिया मच्छरों से निपटने हर माह लाखो रुपये की डीडीटी दवा खरीदी जाती हैं। फिर भी नगर में दवा का छिड़काव पूरी तरह से नादरद है।इसके साथ ही गली मौहल्ले में दवा का  छिड़काव के लिए लाखों रुपये की लागत से फगिंग मशीन खरीदी की गई थी। जिससे दवा का छिड़काव किया जाना था। परंतु यह छिड़काव केवल कागजों तक ही सीमित है। आलम यह है कि यह मशीन धूल फांक रही है। एवं दवा नगर पंचायत गोदाम की शोभा बढाने में लगे हुए है ।

नगर में पूरी तरह से दवा का छिड़काव बंद कर दिया गया है। इससे सभी वार्डो में मच्छरों का प्रकोप है। जो संक्रामक रोगों के फैलने का निमंत्रण दे रहा है। यही नही कांशीराम आवास पॉकेट संख्या दो ओर नगर पंचायत द्वारा खुले में कूड़े के साथ मरे हुए मवेशियों को भी फेका जा रहा है। जिसकी दुर्गंध से लोगो का जीना मुहाल है।और लोगो को संक्रमण फैलने का खतरा सता रहा है।