सहज व सरल रूप से उपलब्ध है प्राकृतिक व आयुर्वेद चिकित्साः डा. विवेक सिंह

हरिओम अस्पताल में मनाया गया भगवान धनवतरि का प्राकट्य दिवस

Young Writer, चंदौली। धनतेरस पर्व पर आरोग्य के देवता भगवान धनवंतरी प्राकट्य दिवस हरिओम हॉस्पिटल चंदौली में मनाया गया। इस दौरान सर्व प्रथम कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आरोग्य भारती के जिलाध्यक्ष डा.शशिकांत मिश्रा ने भगवान धनवंतरी के तैल चित्र पर दीप प्रज्ज्वलन व पुष्प हार अर्पण किया। तत्पश्चात उपस्थित सभी लोगों ने भगवान धनवंतरी की वन्दना किया।

इस मौके डा. शशिकांत मिश्रा ने कहा कि मानव जीवन को सफल व स्वस्थ्य बनाने में प्राकृतिक चिकित्सा, आयुर्वेद चिकित्सा, वन औषधियों का प्रयोग सबसे सरल और सहज रूप उपलब्ध हो जाता है। हम सभी जागरूक होकर उसका प्रयोग तथा प्रबंधन करना चाहिए। कार्यक्रम का संचालन डा.विवेक सिंह ने चिकित्सा, स्वास्थ्य के प्रति जागरूक किया। कहा कि स्वास्थ्य के प्रति देश के प्रत्येक नागरिक को सजग रहता चाहिए। मन व मस्तिष्क स्वस्थ होगा, तभी अब अपने व राष्ट्र के विकास व उत्थान में अपना योगदान दे सकेंगे। लिहाजा खुद को फिट रखें और किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य संबंधित दिक्कत होने पर अपने नजदीकी अस्पताल में चिकित्सकों की परामर्श व दवाएं लेते रहें। बताया कि हरिओम हॉस्पिटल में एक गंभीर रोगी की जान बचाने के लिए वरिष्ठ सेवाभावी कार्यकर्ता धीरज सिंह द्वारा निःशुल्क ब्लड दान किया गया। इसके सहयोग की हम सभी प्रशंसा करते हैं। ऐसे ही समाज के सजग व जागरूक नागरिकों को दूसरों की मदद के लिए आगे आना चाहिए। हरिओम हॉस्पिटल की निदेशक डा.ममता राय ने उपस्थित सभी लोगों का आभार प्रकट करते हुए प्रसाद मिष्ठान वितरण किया। कार्यक्रम का समापन शांति पाठ से हुआ।