अवैध स्थानों से खरीदी शराब के सेवन से अंधा होने का खतरा, जा सकती है जान

अवैध शराब

त्यौहारी समय में आबकारी विभाग ने 584 स्थानों पर छापेमारी कर 321.55 लीटर अवैध शराब किया बरामद

Young Writer,चंदौली। जिलाधिकारी ईशा दुहन के निर्देश पर जिले के आबकारी विभाग ने त्योहारों के अवसर पर जनपद में अवैध मदिरा के निर्माण, भंडारण, परिवहन एवं बिक्री की प्रभावी रोकथाम हेतु विशेष प्रवर्तन अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के अंतर्गत इस माह अब तक कुल 584 छापेमार कार्यवाही की जा चुकी है, जिनमें 321.55 लीटर अवैध शराब की बरामदगी करते हुए 31 अभियोग पंजीकृत किये गए हैं।
साथ ही डीएम के निर्देश पर जनपद के कुल पांच अपराध निरोधक क्षेत्रों में प्रशासन, पुलिस एवं आबकारी विभाग की पांच संयुक्त टीमों का गठन कर बॉर्डर की दुकानों एवं संदिग्ध अड्डों पर औचक दबिश एवं निरीक्षण किया जा रहा है। टीमों के द्वारा अवैध मदिरा के संबंध में रोड चेकिंग भी की जा रही है ताकि किसी भी अवांछित स्थिति को रोका जा सके। इसी क्रम में आमजन को जागरूक किया गया कि त्योहारी समय में अवैध स्थानों व अड्डों से खरीदी गई शराब मिथाइल अल्कोहल मिश्रित शराब हो सकती है, जो एक घातक जहर है और इसकी बहुत थोड़ी सी भी मात्रा पीने से व्यक्ति अंधा हो सकता है एवं उसकी जान भी जा सकती है। इसलिए अपनी एवं अपने परिवार की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए किसी भी दशा में अवैध स्थानों व अडडों से खरीद कर शराब का सेवन ना करें। यदि मदिरा का सेवन आवश्यक हो तो अधिकृत आबकारी दुकान से ही सील लगी बोतल खरीदें। शराब खरीदते समय शीशियों पर पर लगे क्यूआर कोड अवश्य देख लें। कहा कि अवैध शराब के निर्माण व बिक्री, तस्करी या निर्धारित मूल्य से अधिक पर मदिरा की बिक्री की सूचना जिला आबकारी अधिकारी सुभाष चंद्र के मोबाइल नंबर 9454465611 के अलावा आबकारी निरीक्षक सदर क्षेत्र-1 शरद कुमार के 9454466173, आबकारी निरीक्षक चकिया क्षेत्र-2, उमेश द्विवेदी के 9454466174, आबकारी निरीक्षक सकलडीहा क्षेत्र-3, दीपक ओझा के 9454466175, आबकारी निरीक्षक मुगलसराय क्षेत्र-4, जय प्रकाश पांडेय के 9454466176 तथा आबकारी निरीक्षक नौगढ़ क्षेत्र-5, राम मोहन त्रिपाठी के मोबाइल नंबर-8707511989 दे सकते हैं। जानकारी रखने वाले का नाम व पहचान गुप्त रखा जाएगा। इसके अलावा अवैध मदिरा के निर्माण एवं बिक्री की सूचना प्रदेश स्तर पर संचालित टोल फ्री तथा व्हाट्सएप नंबर 9454466019 पर भी दिया जा सकता है।