जर्जर सड़कों का सर्वे करने गए जेई संग ग्रामीणों ने किया दुर्व्यवहार‚ जानिए क्या था मामला

Young Writer: दुर्व्यवहार का मामला

Young Writer, चकिया। कोतवाली क्षेत्र के बोदलपुर गांव में मंगलवार की दोपहर लोक निर्माण विभाग निर्माण खंड के अवर अभियंता सुचित पटेल क्षतिग्रस्त और गड्ढा युक्त सड़कों का सर्वे करने पहुंचे थे और उसी दौरान कतिपय युवकों द्वारा दुर्व्यवहार किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। अवर अभियंता ने चकिया कोतवाली में मामले में लिखित तहरीर देते हुए कार्रवाई की मांग की है।
अवर अभियंता सूचित पटेल ने बताया कि बोदलपुर के ग्राम प्रधान राम लाल यादव के कहने पर मंगलवार की दोपहर गांव में क्षतिग्रस्त सड़कों का सर्वे करने पहुंचे थे। सर्वे के दौरान ग्रामीणों द्वारा नाली और नाबदान का पानी सड़क पर बहाए जाने को लेकर अवर अभियंता ने ग्रामीणों को मना किया। जिस पर गांव के ही कुछ ग्रामीण उनसे उलझ गए। अवर अभियंता ने बताया कि सड़क पर पानी आने के कारण सड़क बार-बार खराब हो जा रही है अगर फिर भविष्य में सड़क पर पानी पाया तो आप सभी के विरुद्ध नोटिस भेजकर कार्रवाई की जाएगी। आरोप है कि इतना सुनते ही ग्रामीणों अवर अभियंता से नोकझोंक किया। अवर अभियंता ने मामले की जानकारी अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी डीपी सिंह को देने के साथ ही पुलिस अधीक्षक, अपर पुलिस अधीक्षक के साथ ही सीओ चकिया को देते हुए कोतवाली में तहरीर दे दी है। कोतवाल मुकेश कुमार ने बताया कि तहरीर के आधार पर मामले की छानबीन की जा रही है।