बड़ी राहतः क्रय केंद्रों पर कतार लगाए बिना सीधे बिकेगा किसानों का धान

Young Writer: कलेक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों को आदेशित करती डीएम।

डीएम चंदौली ईशा दुहन ने जारी किया फरमान‚ बोली आदेश के अनुपालन में लापरवाही पर होगी कार्यवाही

Young Writer, चंदौली। जनपद के छोटे किसानों के लिए जिला प्रशासन ने बड़ी राहत दी है। अब 60 कुंतल या उससे कम धान को क्रय केंद्र पर बेचने के लिए जद्दोजहद कर रहे किसानों की उपज अतिरिक्त कांटे पर बिना किसी प्रतिक्षा के खरीद की जाएगी। इस बाबत जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट सभागार में आकांक्षी जनपद योजना के अंतर्गत नीति आयोग द्वारा निर्धारित संकेतकों व कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक में आदेश जारी किया। साथ ही संबंधित अधिकारियों व क्रय केंद्र प्रभारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए हैं।
इस बाबत जिलाधिकारी ने जनपद के किसानों को अवगत कराया कि धान खरीद वर्ष 2022-23 में सरकारी धान क्रय केंद्रों पर अब जो किसान जिनके पंजीकरण में सत्यापित धान की मात्रा 60 कुंतल या उससे कम है उनकी धान की खरीद बिना प्रतीक्षा किये अतिरिक्त कांटे पर की जाएगी। यानी 60 कुंतल या उससे कम सत्यापित धान की मात्रा वाले किसान अपने नजदीकी धान क्रय केंद्र पर जाकर धान की तौल करा सकते हैं। जिलाधिकारी का यह फरमान किसानों को बड़ी राहत देने वाला है। क्योंकि पिछले वर्ष किसानों ने धान की उपज बेचने के लिए लंबा संघर्ष किया और उन्हें काफी भाग-दौड़ करनी पड़ी थी। लिहाजा अबकी बार जिलाधिकारी द्वारा जारी आदेश का यदि क्रय केंद्रों पर सही तरीके से अनुपालन हुआ था तो छोटे किसानों को धान की उपज बेचने में राहत मिलेगी और उन्हें न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ मिल सकेगा। जिलाधिकारी ने बताया कि किसान अपने धान को अच्छी तरह साफ और सुखाकर क्रय केंद्रों पर ले जाएं। यदि क्रय केंद्रों पर किसी भी तरह की समस्या होती है तो उससे अवगत कराएं। इस संबंध में केंद्र प्रभारियों को आदेश दिए गए हैं। कहा कि धान खरीद में किसी भी तरह से लापरवाही होने पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।