8.1 C
New York
Friday, April 19, 2024

Buy now

नगर निकायः जनहित याचिका पर स्थगन के बाद भी चल रहा चुनाव प्रचार

- Advertisement -

हाईकोर्ट के स्टे आर्डर को लेकर चंदौली नगर में रही चुनावी चर्चाएं

Young Writer, चंदौली। नगर निकाय चुनाव की अधिसूचना पर हाईकोर्ट की रोक से चर्चाओं का बाजार मंगलवार को गर्म नजर आया। स्थिति यह रही कि हाईकोर्ट के स्थगत आदेश को लेकर भावी प्रत्याशियों को असमंजस की स्थिति नजर आई। बावजूद इसके चुनाव प्रचार-प्रसार जोरों पर रहा। वहीं आरक्षण चक्र के बदलाव के इंतजार कर रहे लोगों में एक नई उम्मीद जगी है। फिलहाल कोर्ट का बुधवार तक स्थगत प्रभावी रहेगा। इसके बाद कोर्ट इस मसले पर अपना निर्णय देगा। फिलहाल कोर्ट की अगली कार्यवाही में क्या होगी, इसको लेकर लोगों में उत्सुकता अपने चरम पर है।
विदित हो कि नगर निकाय चुनाव के कार्यक्रम घोषणा पर हाईकोर्ट ने 12 दिसंबर को रोक लगा दिया। इस मसले पर कोर्ट ने मंगलवार को सुनवाई की और स्थगन आदेश को 14 दिसंबर तक प्रभावी रखा है। फिलहाल आचरण को लेकर दावा-आपत्ति करने वाले लोग वर्तमान आरक्षण व्यवस्था में बदलाव का दावा कर रहे हैं वहीं अपने चुनाव प्रचार को गति दे चुके लोग असमंजस की स्थिति में है। फिलहाल चुनाव कार्यक्रमों की घोषणा पर रोक के आदेश से चुनावी सरगर्मी अचानक और बढ़ गयी और लोग तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। कुछ लोग जहां चुनावी चर्चा में वर्तमान आरक्षण चक्र पर अपनी आपत्ति दर्ज कराते नजर आ रहे हैं। वहीं चुनावी रण में कूद चुके लोग आचरण चक्र को सही बताने में पीछे नहीं है। वहीं मतदाताओं में भी चर्चाओं का बाजार गर्म है। आरक्षण चक्र को लेकर हाईकोर्ट में दायर जनहित याचिका और उसे संज्ञान में लेकर हाईकोर्ट द्वारा लगाए गए स्थगन आदेश के बावजूद चुनावी प्रचार-प्रसार का दौर मंगलवार को पूरे दिन और देर शाम तक अनवरत जारी रहा। इस दौरान कई भावी उम्मीदवार अपने वार्ड व नगर में मतदाताओं के बीच अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए नजर आए। दूसरी ओर चार-पान की दुकानों व गली-मोहल्लों में चुनावी चर्चाएं सुनने को मिली।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights