13 C
New York
Monday, May 20, 2024

Buy now

मानव जीवन के लिए जल महत्वपूर्ण तत्वः संजय सिंह

- Advertisement -


अधिकारियों ने जल संरक्षण के बाबत कार्यशाला में दी जानकारी
चंदौली। राज्य पेयजल एवं स्वच्छता मिशन नमामि गंगे तथा ग्रामीण जल आपूर्ति विभाग उत्तर प्रदेश हर घर जल योजना अंतर्गत सोमवार को सदर ब्लाक में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस दौरान ब्लॉक प्रमुख संजय सिंह ने कहा कि जल हमारे जीवन के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण तत्व है। बिना जल के जीवन संभव नहीं है। इसलिए हम सबको मिलकर के जल संरक्षण के लिए कार्य करने की आवश्यकता है क्योंकि आने वाले समय में जो अगला विश्व युद्ध होगा वह पानी को लेकर के होगा।
इसलिए हम सभी का दायित्व है कि आने वाली पीढ़ियों के लिए पानी को संरक्षित करें, क्योंकि ज्यादातर बीमारियों का मूल कारण भी पानी ही है। खंड विकास अधिकारी तारकेश्वर तिवारी ने कहा कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत यह कार्यशाला पेयजल और स्वच्छता को लेकर है जिसके माध्यम से गांव के आम जनमानस को पानी से होने वाली बीमारियों के प्रति जागरूक किया जाएगा तथा पानी की महत्ता के बारे में बताया जाएगा, जिससे कि पानी से होने वाली बीमारियों से बच सके। कहा कि जन जागरूकता के माध्यम से ही लोगों में व्यवहारिक परिवर्तन लाया जा सकता है आज ऐसे ही कार्यक्रमों की आवश्यकता है। राज्य प्रशिक्षक अजीत तिवारी ने दूषित जल से होने वाली बीमारियों के संदर्भ में चर्चा करते हुए कहा कि हर साल लाखों की संख्या में बच्चों की मौत डायरिया जैसी बीमारी से होता है वही एक करोड़ से अधिक लोग कैंसर जैसी बीमारी से प्रभावित होते हैं तथा साथ ही 2 करोड़ से अधिक लोग त्वचा रोग जैसी बीमारियों से प्रभावित होते हैं 50 लाख से अधिक लोग जल जनित बीमारियों से मौत के मुंह में समा जाते हैं। ऐसे में स्वच्छ पेयजल की महत्ता बढ़ जाती है जल जीवन मिशन के अंतर्गत मिलने वाला जल हर तरीके से स्वच्छ एवं सुरक्षित है जिस तरीके से हम पानी का दोहन कर रहे हैं आने वाले समय में भारत के भी कई शहर दक्षिण अफ्रीका केपटाउन शहर की तरह हो जाएंगे। सहायक विकास अधिकारी पंचायत बृजेश कुमार सिंह ने कहा कि यदि हम किचन और बाथरूम से निकलने वाले पानी को दोबारा उपयोग करें तो यह हमारे लिए बेहतर होगा उन्होंने कहा कि 70 प्रतिशत बीमारियां केवल दूषित जल के सेवन दूषित वातावरण में रहने तथा दूषित हाथों से भोजन करने के कारण होती हैं। वरिष्ठ प्रशिक्षक निलेश कुमार पाठक ने कार्यक्रम के अंतर्गत संचालित होने वाली तीनों गतिविधियों के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि वर्तमान परिवेश में लोगों के स्वभाव में परिवर्तन के लिए क्षमता वृद्धि तथा आईसी की गतिविधियां संचालित की जा रही हैं जो उनके मानवीय व्यवहार में परिवर्तन लाने का कार्य करेंगे। इस अवसर पर ग्राम प्रधान सुषमा गिरी डिंपल सिंह पवन मिश्रा, जिला समन्वयक संतोष गुप्ता, अतुल राय रवि सिंह सवेश देवांश पाठक, अखिलेश मिश्रा, निखिल पाण्डेय आदि लोग मौजूद थे।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights