सरकार नहीं तो अंजनी सिंह बने सहारा‚ गरीब बेशहारा को दिया छत

बभनियांव गांव में गरीब की मदद को पहुंचे अंजनी सिंह।
बभनियांव गांव में गरीब की मदद को पहुंचे अंजनी सिंह।

Young Writer, धानापुर। सपा नेता जिला पंचायत सदस्य अंजनी सिंह जो बेहद जिंदादिल इंसान हैं जो अपनी दरियादिली के लिए जानें जाते हैं जिनको क्षेत्र की गरीब मजबूर लाचार जनता अपना सगा अपना मददगार मानती है जो हर किसी की समस्या को लेकर दिनरात चलने लड़ने का काम करते हैं जनता कि एक पुकार पर हाजिर रहते हैं बारिश के मौसम में एक छत विहीन बेसहारा परिवार के लिए उनकी मदद को आगे आकर बेशहारा का सहारा बनें और अपने निजी पैसे से उस परिवार को सीमेंट सेड लगवाकर तत्काल मदद किया।

अंजनी सिंह के मदद से निराश लाचार परिवार के लोगों में खुशियां दौड़ गई। अंजनी सिंह के इस कार्य कि लोगों ने खूब सराहना कि बताते चलें कि आवास कि सूची में नाम होने के बावजूद भी इस निर्धन परिवार का नाम पात्रता सूची से काट दिया गया। अंजनी सिंह ने जिलाधिकारी चंदौली का ध्यान आकृष्ट कराते हुवे कहा कि जिलाधिकारी चंदौली आवास पात्रता सूची के प्रकरण को गंभीरता से लें जनपद के धानापुर ब्लॉक अंतर्गत बभनियांव थाना गाँव के दलित बस्ती का नाम ही लगभग बीस पच्चीस वर्षों से आवास पात्रता सूची से गायब है ऐसे ही जनपद चंदौली के हर गांवों में ऐसे बहुत से पात्र गरीब हैं जो लाचारी मजबूरी कि जिंदगी बिताने को मजबूर हैं जिनके पास छत नहीं किसी तरह टूटी फूटी झोपड़ी जर्जर कच्चे मकान में जीवन गुजार रहे हैं ऐसे लोगों का या तो आवास सूची में नाम ही नहीं है या फिर नाम होने के बावजूद भी उनका नाम गलत मंशा से काट दिया गया है। सरकार आवास का पोर्टल बंद करके रखी है जिसे खुला रहना चाहिए। सरकार कि मंशा गरीबों के प्रति बेहद लापरवाह है सरकार को गरीब बस चुनाव के समय ही याद आते हैं। अब जब चौबिस का लोकसभा चुनाव नजदीक आएगा, तभी सरकार आवास पोर्टल को खोलेगी ताकी वो जनता को अपने झूठ के जाल में फाँस सकें।