13.8 C
New York
Thursday, February 29, 2024

Buy now

सेहतः बारिश के मौसम में अपनी त्वचा को संक्रमण से बचाएं

- Advertisement -

Young Writer, चंदौली। बारिश और उमस भरे मौसम में त्वचा पर फंगल और बैक्टीरियल संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। संक्रमण से हाथ-पैर, कोहनी, पंजे और जांघ में काफी परेशानी होती है। ऐसे मौसम में त्वचा को स्वस्थ रखना अतिआवश्यक है। उक्त सुझाव कमला पति त्रिपाठी जिला संयुक्त चिकित्सालय के त्वचा रोग विशेषज्ञ डा.अनुज सिंह ने लोगों को दी है। 

उन्होंने बताया कि सामान्य तरीके से अपनी त्वचा की देखभाल की जा सकती है लेकिन त्वचा में होने वाले संक्रमण के लिए चिकित्सक की सलाह व उपचार लेना आवश्यक है। बताया कि एक महीने में फंगल संक्रमण के लगभग 2000 से ज्यादा मरीजों का इलाज किया जा चुका है। बारिश के मौसम में कभी धूप तो कभी बारिश कि वजह से गीले कपड़ों और पसीने के कारण समस्या भी हो रही है। इसमें पैरों में चकत्ते पड़ना, दर्द होना और एलर्जी जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। देर तक भीगे रहने से त्वचा पर लाल रंग के धब्बे पड़ जाते हैं। साथ ही खुजली, फंगल इंफेक्शन, पैर की उंगलियों में इंफेक्शन, मुंहासे और एक्जिमा, खुजली, सूजन, आदि त्वचा संबंधी अनेक समस्या उत्पन होती हैं। जैसे लाल रंग के दाने में उत्पन्न होने वाली यह समस्या पसीने से होती है। खुजलाने से इंफेक्शन बढ़ता है, इसलिए कोशिश करें कि हल्के कॉटन सूती के कपड़े पहनें। खुजली आने पर साफ सूती कपड़े से हल्के हांथों का इस्तेमाल करें।

बारिश में बरतें सावधानी 

चंदौली। डा. अनुज ने बताया कि बारिश के मौसम में कई बार नेल इन्फेक्शन हो जाता है। लिहाजा बड़े नाखून रखने से बचें, क्योंकि इस मौसम में नाखून में गंदगी बैठती है, जिससे फंगल इंफेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है। पैरों में फिट न आने वाले जूते पहनने से कई बार फंगल इन्फेक्शन हो जाता है। बारिश के मौसम में प्लास्टिक, लेदर या कैनवस जूते पहनने से बचें। इनकी जगह चप्पल या फ्लिप-फ्लॉप पहनना चाहिए, जिससे आपके पैरों को हवा लग सके। फंगल इंफेक्शन एक व्यक्ति से दूसरे को हो जाती है। ऐसे में यदि एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति के कपड़े, तौलिया, चप्पल या साबुन आदि इस्तेमाल करता है तो उसे भी यह संक्रमण हो जाता है। यह संक्रमण एक ही परिवार के सभी लोगों को भी हो सकता है। हाथ, पैर की सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए।  पैरों को साफ और सूखा रखें और धुले हुए कॉटन के मोजे पहनें। पेय पदार्थों जैसे चाय, कॉफी और तले-भुने खाद्य पदार्थों के सेवन से बचें। इनसे त्वचा बेजान और रुखी होती है।

Related Articles

Ad

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights