जन कल्याणकारी योजनाएं पात्रों जन तक पहुंचाना प्राथमिकताः ईशा दुहन

Chandauli DM

नवागत डीएम ईशा दुहन ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर कार्यभार संभाला

Young Writer, चंदौली। अतिपिछड़े जनपदों में नीति आयोग की डेल्टा रैकिंग में सुधार कर उसे उपर ले जाने के साथ ही जनकल्याणकारी योजनाओं को पात्रों तक पहुंचाना प्राथमिकता में रहेगा। परियोजनाओं को समय से और गुणवत्तापूर्ण तरीके से कराया जाएगा। उक्त बातें नवागत जिलाधिकारी ईशा दुहन ने सोमवार को कलेक्ट्रेट स्थित कोषागार में पदभार ग्रहण कर मीडिया से बातचीत में कही।

चंदौली कलेक्ट्रेट स्थित कोषागार में कार्यभार ग्रहण करती डीएम।
चंदौली कलेक्ट्रेट स्थित कोषागार में कार्यभार ग्रहण करती डीएम।

2014 बैच की आईएएस ईशा दुहन मूल रूप से हरियाणा के पंचकूला की रहने वाली हैं। जनपद में डीएम पद पर उनकी पहली तैनाती है। इससे पहले राजा तालाब में एसडीएम और वाराणसी विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष रह चुकी हैं। वह बुलंद शहर मेरठ में सीडीओ का दायित्व निभा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि गांवों के लोगों को समस्याओं के लिए मुख्यालय पर आना न पडे। इसका विशेष ध्यान रहेगा। जनता के द्वार पर ही समस्याएं निपटायी जाएंगी। कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य, महिला कल्याण सहित अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं को गांव में अंतिम पायदान पर बैठे पात्र व्यक्ति तक पहुंचाने का काम किया जाएगा। खनन माफिया और अतिक्रमणकारियों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी। जरूरत हुआ तो वाराणसी की तर्ज पर इस जिले में भी बुल्डोजर चलाया जाएगा। ब्लैक राइस को अच्छा मार्केट दिलाने के लिए कार्ययोजना बनायी जाएगी। यहां पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए पर्यटन के क्षेत्र में विकास करना भी प्राथमिकता में होगा। इस मौके पर एडीएम उमेश मिश्रा, सीडीओ अजितेंद्रनारायण, मुख्य कोषाधिकारी पवन द्विवेदी सहित अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।