13 C
New York
Monday, May 20, 2024

Buy now

शराब की दुकान बंद कराने के लिए मुखर हुई वनभीषमपुर की महिलाएं

- Advertisement -

सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने महिलाओं को समझा बुझा शांत कराया

Young Writer, इलिया। क्षेत्र के वनभीषमपुर व ढोढनपुर गांव सीमा पर दलित व मुसहर बस्ती के पास देशी शराब की दुकान संचालित होने से शराबियों द्वारा आते दिन किये जा उत्पात से परेशान ग्रामीणों में रोष बढ़ता जा रहा है। इसी नाराजगी के कारण मंगलवार को दर्जनों की संख्या में ठेका पर पहुंची महिलाओं ने विरोध प्रर्दशन करते हुए ढोढ़नपुर गांव के पास सड़क जाम कर दिया।इसकी वजह से करीब दो घंटे तक आवागमन बाधित रहा। मौके पर पहुंची पुलिस ने महिलाओं को किसी तरह समझा-बुझा र उन्हें शांत कराया। महिलाओं ने कहा कि बस्ती के पास देशी शराब की दुकान संचालित हो रही है। मदिरा का सेवन करने से पुरुष व युवक आए दिन तांडव कर रहे हैं। जिससे महिलाओं को जहां असहनीय पीड़ा सहनी पड़ रही है। वही मारपीट की नौबत आ जा रही है। स्थानीय युवक शराब की लत के कारण अपना कैरियर भी खराब कर रहे हैं।शाम ढलते ही दुकान पर शराबियों का जमावड़ा होना शुरु हो जाता है। शराब के नशे में धुत्त नशेड़ी आए दिन लोगों से विवाद कर रहे हैं। महिलाओं ने शराब की दुकान पर जमकर हंगामा करते हुए ठेका बंद कराने की मांग किया। वही मौके की नजाकत को भांपते हुए ठेका संचालक फरार हो गया। मामला संज्ञान में आते ही चकिया कोतवाली प्रभारी राजेश कुमार यादव के निर्देश पर उप निरीक्षक अभिषेक शुक्ला पहुंचकर महिलाओं को समझाकर किसी तरह शांत करा दिया। इस मौके पर ग्राम प्रधान राम अशीष मौर्य, पारस राम,लाल बहादुर छोटई सुरेंद्र, राजबली, विनोद, नरेंद्र सरोजा देवी, राधिका देवी, फूला देवी, बिंदा देवी, गीता देवी,सुनीता देवी समेत बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित थीं।

Related Articles

Election - 2024

Latest Articles

You cannot copy content of this page

Verified by MonsterInsights