चंदौली के विकास पुरूष थे पंडित कमलापति त्रिपाठी:धर्मेंद्र

चंदौली। स्वतंत्रता सेनानी व चंदौली के विकास पुरूष पंडित कमलापति त्रिपाठी  की 117वीं जयंती जनपद में श्रद्धापूर्वक मनाई गयी। इस दौरान कांग्रेस जिलाध्यक्ष जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र तिवारी ने कहा कि कमलापति त्रिपाठी काशी की संस्कृति के ब्रांड एम्बेसडर थे। गहरे संस्कारों के साथ छोटी आयु में महामना मालवीय जी महाराज के अनुकरण के रास्ते से होकर महात्मा गांधी से जुड़े। कहा कि अपने सत्तर सालों के सार्वजनिक जीवन में कमलापति त्रिपाठी एक यशस्वी राजनेता के नाते जाने जाते हैं। यद्यपि वह मूल रूप से साहित्य के एवं पत्रकारिता जगत से जुड़े थे। गांधी दर्शन पर वह प्रशस्त लेखक थे, जिन्होंने अपने नेता पंडित नेहरू की तर्ज पर ज्यादा ग्रंथ अपने जेल जीवन के बीच बिना किसी रेफरेंस लाइब्रेरी के सहयोग से लिखी थीं। पांच साल से ज्यादा वक्त जेलों में रहे। इस मौके पर पंडित जी के प्रपौत्र पूर्व विधायक ललितेशपति त्रिपाठी, सपा नेता छोटू तिवारी के अलावा कांग्रेस नेता डा.नारायण मूर्ति ओझा, विजय तिवारी, देवेंद्र प्रताप सिंह, तरुण पांडेय, आनंद शुक्ला, रामजी गुप्ता, धरणीधर तिवारी, राहुल सैनी, दीपक जायसवाल, संजय मिश्रा करुणा तिवारी वीरेंद्र तिवारी आदि लोग मौजूद रहे।